चौथे चरण में सलमान खुर्शीद, श्रीप्रकाश जायसवाल, डिम्पल यादव की प्रतिष्ठा दांव पर

लोकसभा चुनाव के चौथे चरण में प्रदेश में 29 अप्रैल को होने वाले चुनाव में स्वतंत्र, निष्पक्ष, शांतिपूर्ण मतदान कराने के लिए की गयी सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। चौथे चरण में 18 जिलों की 13 लोक सभा सीटों पर मतदान सम्पन्न होगा।

लखनऊ: लोकसभा चुनाव के चौथे चरण में प्रदेश में 29 अप्रैल को होने वाले चुनाव में स्वतंत्र, निष्पक्ष, शांतिपूर्ण मतदान कराने के लिए की गयी सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। चौथे चरण में 18 जिलों की 13 लोक सभा सीटों पर मतदान सम्पन्न होगा।

चौथे चरण में पूर्व केन्द्रीय मंत्रियों सलमान खुर्शीद, श्रीप्रकाश जायसवाल, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की पत्नी डिम्पल यादव समेत कई सियासी दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर लगी हुई है।

दो करोड़ इकतालिस लाख से अधिक मतदाता मनायेंगे लोकतंत्र का महापर्व
मुख्य निर्वाचन अधिकारी एल. वेंकटेश्वर लू ने रविवार को बताया कि इस चरण में कुल मतदाताओं की संख्या 2,41,07,084 हैं। इनमें 1,30,83,421 पुरुष और 1,10,22,629 महिला मतदाता हैं। थर्ड जेन्डर की संख्या- 1,034 है। मतदान सुबह सात बजे से शाम छह बजे तक होगा। उन्नाव लोकसभा क्षेत्र में सबसे अधिक 21,88,558 मतदाता हैं। वहीं कानपुर लोकसभा क्षेत्र में सबसे कम 16,31,296 वोटर हैं।

खीरी में सबसे अधिक 15 उम्मीदवार मैदान में
वेंकटेश्वर लू ने बताया कि चौथे चरण में 17,011 मतदान केन्द्र और 27,516 मतदेय स्थल बनाये गये हैं। कुल 152 उम्मीदवार सियासी मैदान में हैं। जिनकी किस्मत का फैसला सोमवार को ईवीएम में बन्द हो जायेगा।

इसमें (27) शाहजहांपुर में 14, (28) खीरी में 15, (31) हरदोई में 11, (32) मिश्रिख में 13, (33) उन्नाव में 09, (40) फर्रुखाबाद में 09, (41) इटावा में 13, (42) कन्नौज में 10, (43) कानपुर में 14 (44) अकबरपुर में 14, (45) जालौन में 05, (46) झांसी में 11 तथा (47) हमीरपुर में 14 उम्मीदवार हैं।

ये भी पढ़ें…पहले चरण के लोकसभा चुनाव में सभी प्रत्याशी करोड़पति

18 महिला उम्मीदवार लड़ रहीं चुनाव
वेंकटेश्वर लू ने बताया कि चौथे चरण में कुल 18 महिला उम्मीदवार मैदान में हैं। इस चरण में प्रमुख रूप से भाजपा के 13 उम्मीदवार, कांग्रेस के 12, बसपा के 06, सपा के 07, सीपीआई के 02 तथा शेष अन्य एवं निर्दलीय उम्मीदवार हैं।

4014 क्रिटिकल मतदेय स्थलों पर रहेगी विशेष नजर
वेंकटेश्वर लू ने बताया कि क्रिटिकल मतदेय स्थलों की संख्या 4014 है। स्वतंत्र, निष्पक्ष और शांतिपूर्ण मतदान के लिए 3459 माइक्रो आबजर्वर लगाये गये हैं। इस बार शत प्रतिशत मतदेय स्थलों पर वीवीपैट का प्रयोग किया जाएगा।

चुनाव में 2298 सेक्टर मजिस्ट्रेट, 293 जोनल मजिस्ट्रेट और 308 स्टैटिक मजिस्ट्रेट लगाये गये हैं। इसके साथ ही 13 सामान्य प्रेक्षक, 07 पुलिस प्रेक्षक, 13 व्यय प्रेक्षक और 67 सहायक व्यय प्रेक्षकों की तैनाती की गई है। चौथे चरण में 1,18,578 कर्मचारी मतदान कार्य में लगाये गये हैं।

इसके साथ ही पर्याप्त संख्या में अर्द्धसैनिक बल एवं पीएसी की तैनाती की गयी है।
मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि 29 अप्रैल को मतदान वाले जिलों में निगोशिएबल इन्स्ट्रमेन्ट एक्ट के तहत सार्वजनिक अवकाश के अलावा कारखाने, सभी वाणिज्यिक अधिष्ठान एवं दुकानें बंद रहेंगी।

ये भी पढ़ें…लोकसभा चुनाव 2019: इस बार चुनावी पर्व से गायब हैं कई बड़े चेहरे

कई दिग्गजों की सियासी प्रतिष्ठा दांव पर लगी
इस चरण में कुल 13 लोकसभा सीटों शाहजहांपुर (सु.), खीरी, हरदोई (सु.), मिश्रिख (सु.), उन्नाव, फर्रुखाबाद, इटावा (सु.), कन्नौज, कानपुर, अकबरपुर, जालौन (सु.), झांसी और हमीरपुर के लिए वोट पड़ेंगे।

इस चरण में पूर्व केन्द्रीय मंत्रियों सलमान खुर्शीद, श्रीप्रकाश जायसवाल, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की पत्नी डिम्पल यादव समेत कई सियासी दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर लगी हुई है। वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में कन्नौज को छोड़कर बाकी सभी सीटों पर भाजपा के उम्मीदवारों ने जीत हासिल की थी।

निघासन विधान सभा उपचुनाव में सात उम्मीदवार मैदान में
मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि इसके साथ ही 138-निघासन विधानसभा में उपचुनाव के लिए भी 29 अप्रैल को मतदान सम्पन्न होगा। उपचुनाव में कुल 07 उम्मीदवार मैदान में हैं। कुल मतदाताओं की संख्या 3,35,987 है। इनमें 1,81,622 पुरुष तथा 1,54,365 महिला मतदाता हैं। उपचुनाव के लिए 179 मतदान केन्द्र और 369 मतदेय स्थल बनाये गये हैं।

ये भी पढ़ें…लोकसभा चुनाव 2019 के चलते रूके राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार