बाबा ने बाबा को कहा बाय—बाय, ग्रेनो में नहीं खुलेगा पतंजलि मेगा फूड पार्क

Published by Manoj Dwivedi Published: June 6, 2018 | 9:49 am
Modified: June 6, 2018 | 10:43 am

Patanjali food park in greater noida

ग्रेटर नोएडा: प्रदेश के ग्रेटर नोएडा में अब पतंजलि का मेगा फूड पार्क नहीं खुलेगा। केंद्र द्वारा फूड पार्क का लाइसेंसट निरस्त होने के बाद प्रदेश सरकार ने मेगा फूड पार्क योजना को निरस्त कर दिया है। अब पतंजलि इस प्रोजेक्ट को कहीं और ले जाने की तैयारी में है।

यह है मामला

उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा में 1500 करोड़ रुपए के निवेश के साथ स्थापित होने वाला पतंजलि मेगा फूड पार्क का सपना अब कभी साकार नहीं होगा। पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड के सीईओ आचार्य बालकृष्ण ने मंगलवार को एक ट्वीट में कहा कि ग्रेटर नोएडा में केंद्रीय सरकार से स्वीकृत मेगा फूड पार्क को निरस्त करने की सूचना मिली। राज्य सरकार ने भी इसे निरस्त कर दिया है। अब इस प्रोजेक्ट को अन्यत्र शिफ्ट किया जाएगा।

फिटनेस का भी हो गया बाजारीकरण: सुनील शेट्टी

सपा सरकार ने दी थी मंजूरी

गौरतलब है कि पतंजलि आयुर्वेद ने नवम्बर 2016 में उत्तर प्रदेश सरकार के साथ राज्य में 2000 करोड़ रुपए के निवेश की घोषणा की थी। इसमें यमुना एक्सप्रेस-वे पर 450 एकड़ में फूड पार्क की स्थाीपना भी शामिल है। इस फूड पार्क पर 1500 करोड़ रुपए का निवेश किया जाना था। अखिलेश सरकार ने नवम्बर 2016 में ही पतंजलि आयुर्वेद के इस प्रोजेक्ट को मंजूरी दे दी थी।

HC: पतंजलि आयुर्वेद कं. के लिए पेड़ काटने मामले में DM ने दाखिल किया हलफनामा

रोजगार की थी संभावना

प्रोजेक्ट की स्थापना के समय कहा गया था कि पूर्ण क्षमता पर यह संयंत्र सालाना 25,000 करोड़ रुपए के उत्पादों का उत्पादन करने में सक्षम होगा। साथ ही इस फूड पार्क की स्थापना से प्रदेश में 10,000 लोगों को रोजगार मिलने की संभावना थी, जिससे 50,000 परिवारों को प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से लाभ मिलता।

 

 

 

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App