Top

जानिए ग्रहों के स्थान परिवर्तन से किन राशियों को रहना होगा सतर्क, किसको मिलेगा धन

suman

sumanBy suman

Published on 17 Feb 2019 1:39 AM GMT

जानिए ग्रहों के स्थान परिवर्तन से किन राशियों को रहना होगा सतर्क, किसको मिलेगा धन
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

जयपुर:फरवरी माह ज्योतिष के नजरिए से यह महीना काफी महत्वपूर्ण है। फरवरी माह में 4 बड़े ग्रह अपनी-अपनी राशि बदलकर दूसरी राशि में बैठेंगे। जैसे-जैसे किसी व्यक्ति की कुंडली में ग्रहों की चाल में परिवर्तन आता है उस व्यक्ति को सकारात्मक और नकारात्मक रिजल्ट मिलने शुरू हो जाते हैं। ग्रह दशा पक्ष में होने से व्यक्ति के सारे काम आसानी से होने लगते हैं वहीं कुंडली में विपरीत ग्रह होने व्यक्ति को तमाम तरह परेशानियां आने लगती है। ग्रहों के राशि परिवर्तन का व्यापक प्रभाव समस्त राशियों पर पड़ता है। फरवरी महीने में मंगल, सूर्य, बुध और शुक्र जैसे प्रमुख ग्रह एक राशि को छोड़कर दूसरी राशि में प्रवेश करेंगे। इन ग्रहों की चाल में बदलाव होने से कुछ राशियों के सितारे चमक सकते हैं तो वहीं कुछ के बुरे दिन शुरू हो सकते हैं।

मंगल ग्रह का विशेष महत्व होता है। मंगल ग्रह मेष और वृश्चिक राशि के स्वामी है। मंगल ऊर्जा और शक्ति का प्रतीक हैं। मंगल मकर राशि में उच्च के भाव रहते हैं और कर्क राशि में इन्हें नीच के भाव में। मंगल 6 फरवरी को मेष राशि में प्रवेश करेंगे इससे पहले कुछ समय से मीन राशि में विचरण कर रहे थे।

17फरवरी : सिंह राशि के जातक विवादों से रहे दूर, जानिए क्या कहती है अन्य राशियां

शुक्र ग्रह को ज्योतिषशास्त्र में सुख-सम्पदा, सौंदर्य, ऐश्वर्य और संपन्नता का प्रतीक माना गया है। ज्योतिष में शुक्र को वृष और तुला राशि का स्वामी माना गया है। 24 फरवरी को शुक्र मकर राशि में प्रवेश करेंगे। शुक्र अभी धनु राशि में विचरण कर रहे हैं। कुंडली में शुक्र के अच्छे प्रभाव से व्यक्ति को धन और संपन्नता की प्राप्ति होती है।सूर्य को सभी नौ ग्रहों का केन्द्र माना गया है। कुंडली में सूर्य अच्छा होने से व्यक्ति के मान-सम्मान में वृद्धि होती है। सूर्य राशि चक्र की एक राशि में लगभग एक महीने तक रहते हैं।

सूर्य 13 फरवरी को मकर राशि को छोड़कर कुंभ राशि में प्रवेश करेंगे। जिसका प्रभाव सभी राशियों पर पड़ेगा।7 फरवरी को बुध धनु राशि से निकलकर मकर राशि में आएंगे। बुध ग्रह को ज्योतिष में बुद्धि और कौशल का प्रतीक माना जाता है। बुध के कुंभ में राशि परिवर्तन से शिक्षा, गणित, तर्क, यांत्रिकी, ज्योतिष, लेखाकार, वकील आयुर्वेद, लेखन, प्रकाशन, रंगमंच और निजी व्यवसाय में लगे जातको के लिए शुभ रहेगा।

इन राशियों के लिए यह गोचर शुभ रहेगा- मेष, वृष, कर्क और तुला। इस 4 राशियों को तरक्की और धन लाभ होने के संकेत हैं।

इन राशियों के लिए यह गोचर सामान्य रहेगा- सिंह, धनु, मकर और कुंभ

सावधान - मिथुन, कन्या, वृश्चिक और मीन

suman

suman

Next Story