प्रिंस विलियम-केट का ताज महल दौरा बनेगा टूरिस्टों के दीदार का रोड़ा

Published by Admin Published: April 13, 2016 | 2:21 pm
Modified: April 13, 2016 | 7:02 pm

आगरा: 16 अप्रैल को  ताजमहल का दीदार करने आये पर्यटकों को मायूसी का सामना करना पड़ सकता है । इसकी वजह देश में दौरे पर आए  ब्रिटिशशाही जोड़े प्रिंस विलियम और प्रिंसेज केट हैं, जो कि इस दिन ताजमहल का दीदार करेंगे। सूत्रों के अनुसार सुरक्षा कारणों से इस दौरान किसी भी पर्यटक को ताजमहल के अंदर जाने की इजाजत नहीं होगी। ऐसे में ताज दीदार का ख्‍वाब दिल में लेकर आगरा आए हजारों पर्यटकों का दिल टूटना लाजमी है।

ताजमहल बंद रहने की उम्मीद
ताजमहल में किसी भी वीवीआईपी मूवमेंट के दौरान सुरक्षा कारणों से सैलानियों का प्रवेश रोक दिया जाता है। इसकी सूचना भी बाकायदा दे दी जाती है। शाही जोड़े  के ताज दीदार के दौरान कितनी देर ताजमहल बंद रहेगा, इसकी आधिकारिक सूचना पुरातत्व विभाग की तरफ से अभी तक नहीं दी गई है। संभावना है कि शाही दंपति शाम चार बजे ताजमहल पहुंचेंगे और करीब २ घंटे गुजारेंगे। इस कार्यक्रम के आधार पर दिनभर सैलानियों के लिए ताजमहल बंद रह सकता है।

ये भी पढ़ें…शीरोज कैफे जा सकते हैं प्रिंस विलियम-केट, लक्ष्मी से की मुलाकात

dfgdsg
पत्‍नी केट के साथ प्रिंस विलियम

शुक्रवार को  बंदी की वजह से उमड़ती है शनिवार को हजारों पर्यटकों की भीड़ 
-शुक्रवार को ताजमहल  बंदी के कारण शनिवार को ताज दीदार के लिए हजारों पर्यटकों की भीड़ उमड़ती है।
-इस शनिवार को भी ऐसे ही हालात  होने की संभावना है।
-16  अप्रैल को शाही जोड़े के ताज का दीदार करने के कार्यक्रम की वजह से पर्यटकों को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

-सूत्रों  के अनुसार सुरक्षा कारणों की वजह से ताजमहल बंद रह सकता है।
-ऐसे में दिल में ताजमहल के दीदार का सपना पाले हुए आगरा आए हजारों पर्यटकों खासकर जोड़ों का दिल टूट जाएगा।

ये भी पढ़ें…डायना की इस तस्वीर को जिंदा करने आ रहे हैं प्रिंस विलियम और केट

छुट्टियों की वजह से रहेगा देशी पर्यटकों का हुजूम
-गुरूवार 14 अप्रैल को अंबेडकर जयंती, 15 अप्रैल को रामनवमी, 16 अप्रैल को शनिवार को अधिकतर कार्यालय बंद रहेंगे।
-अगले दिन रविवार की छुट्टी होने के कारण ताजमहल पर आने वाले पर्यटकों में देसी पर्यटकों की भीड़ ज्‍यादा रहेगी।
-लगातार चार दिन की छुट्टियों के कारण खासकर दिल्ली और आसपास के प्रदेशों के पर्यटकों का ज्यादातर रुख  ताजनगरी आगरा की ओर रहता है।
-शुक्रवार को बंदी की वजह से शनिवार को हर बार से कहीं ज्यादा देसी पर्यटक आने की उम्मीद है।

ये भी पढ़ें…आतंक प्रभावित देशों से आने वाले टूरिस्टों को होटल में नहीं मिलेंगे रूम

पहुंचेगा आर्थिक नुकसान
-पूर्वी गेट पर हैंडीक्राफ्ट का शोरूम चलाने वाले मोहम्मद शाहिद ने बताया-
-पहले से मंदी की मार झेल रहे हैंडीक्राफ्ट का काम करने वाले व्यवसाइयों को लाखों का नुकसान हो सकता है।
-आजकल गर्मी की वजह से  वैसे भी पर्यटकों की संख्या में काफी कमी चल रही है, ऐसे में ज्यादातर पर्यटक शनिवार को ही आते हैं।
-वहीँ बालाजी हैंडीक्राफ्ट के राजेश गुप्ता ने बताया कि चूँकि शाही जोड़ा  की पूर्वी गेट  के पास स्थित अमर विलास होटल में रुकेगा।

-तो वैसे ही होटल से ताजमहल पूर्वी गेट तक के रास्ते को सुरक्षा की दृष्टि से छावनी बना दिया जाएगा।
-इससे शोरूम वालों को काफी आर्थिक हानि हो सकती है।

क्या कहना है होटल व्यवसाइयों का
-होटल एंड रेस्‍टोरेंट ओनर्स एसोसियशन के रमेश वाधवा ने बताया कि अभी तक कोई भी सरकारी नोटिफिकेशन जारी नहीं हुआ है।
-अगर पहले से पता चल जाए, तो पर्यटकों को दूसरे स्मारकों के दीदार के लिए भेजा जा सकता है।
-वहीं होटल व्यवसायी अविनाश शिरोमणि ने बताया कि गर्मी की वजह से ज्यादातर पर्यटक शाम के समय तीन से चार बजे ताजमहल में प्रवेश करते हैं।

-अभी तक पता चला है कि शाही जोड़ा भी इसी समय के दौरान ताज का दीदार करेगा।
-ऐसे में पर्यटकों को भारी दिक्कतों का सामना कर पड़ सकता है।

क्या कहना है एएसआई का
-एएसआई सुप्रिटेंडेट भुवन विक्रम सिंह ने बताया कि  मंत्रालय से  ब्रिटिश शाही दंपति के दौरे  के संबंध में कोई भी शेड्यूल  नहीं मिला है।
-जैसे ही शेड्यूल  पता चलेगा, उसके बाद ही कुछ फाइनल हो पाएगा कि ताजमहल बंद रहेगा या नहीं।