Top

इस बार भौतिकी का नोबेल पुरस्कार मिलेगा तीन अमेरिकी वैज्ञानिकों को

aman

amanBy aman

Published on 4 Oct 2017 1:15 AM GMT

इस बार भौतिकी का नोबेल पुरस्कार मिलेगा तीन अमेरिकी वैज्ञानिकों को
X
इस बार भौतिकी का नोबेल पुरस्कार मिलेगा तीन अमेरिकी वैज्ञानिकों को
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

स्टॉकहोम: गुरुत्वीय तरंगों की खोज करने वाले अमेरिकी वैज्ञानिकों को इस साल भौतिकी का नोबेल पुरस्कार मिला है। नोबेल पुरस्कार देने वाली कमेटी ने इस साल भौतिक विज्ञान के लिए तीन लोगों को संयुक्त रूप से चुना है। पुरस्कार की आधी रकम जर्मनी में पैदा हुए वाइस को मिलेगी, जबकि आधा इनाम थोर्ने और बैरिश में बांटा जाएगा।

बता दें, कि नोबेल पुरस्कार के लिए चुने गए राइनर वाइस मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से जुड़े हैं, जबकि बैरी बैरिश और किप थोर्ने कैलिफोर्निया इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से जुड़े हैं। गुरुत्वीय तरंगों की खोज में इन तीनों वैज्ञानिकों ने अहम भूमिका निभाई है। कई महीनों के बाद जब इस खोज का ऐलान किया गया था तब ना सिर्फ भौतिक विज्ञानियों में बल्कि आम लोगों में भी सनसनी फैल गई थी।

ये भी पढ़ें ...अमेरिका के तीन वैज्ञानिकों को चिकित्सा का नोबेल पुरस्कार

बताया जा रहा है कि इन तीनों अमेरिकी वैज्ञानिकों ने गुरुत्वीय तरंगों के अस्तित्व का पता लगाया और अल्बर्ट आइंस्टाइन के सदियों पुराने सिद्धांत को सच साबित किया। ये तीनों वैज्ञानिक लेजर इंटरफेरोमीटर ग्रैविटेशनल वेव ऑब्जर्वेशन यानी लीगो रिसर्च प्रोजेक्ट से जुड़े थे, जिसने आंस्टाइन के ग्रैविटेशनल रिलेटिविटी के सिद्धांत को सच साबित करने में सफलता पाई।

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story