Top

गांव की महिलाओं ने तैयार किया 'अमेठी अचार', ब्रांड-एंबेसडर बनी स्मृति ईरानी

राहुल गांधी के संसदीय क्षेत्र अमेठी में गांव की महिलाओं ने अपने हाथों से 'अचार' तैयार कर इसे मार्केट में भेज रही हैं। अमेठी के सांसद होने के नाते राहुल गांधी ने अब तक इन महिलाओं के मनोबल को बढ़ाने के लिये भले ही तत्परता न दिखाई हो, लेकिन केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी से इस पल को कैश कराने में तनिक भी चूक नहीं हुई।

priyankajoshi

priyankajoshiBy priyankajoshi

Published on 16 Feb 2018 9:00 AM GMT

गांव की महिलाओं ने तैयार किया अमेठी अचार, ब्रांड-एंबेसडर बनी स्मृति ईरानी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

असगर नकी

अमेठी: राहुल गांधी के संसदीय क्षेत्र अमेठी में गांव की महिलाएं अपने हाथों से 'अचार' तैयार कर इसे मार्केट में भेज रही हैं। अमेठी के सांसद होने के नाते राहुल गांधी ने अब तक इन महिलाओं के मनोबल को बढ़ाने के लिये भले ही तत्परता न दिखाई हो, लेकिन केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी से इस पल को कैश कराने में तनिक भी चूक नहीं हुई।



केंद्रीय मंत्री ने ट्विटर पर लिखा

राहुल के संसदीय क्षेत्र वाले ज़िले में महिलाओं की इस तरह लगन और मेहनत को सराहते हुए केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने इन महिलाओं के लिये 'ब्रांड-अंबेसडर' का काम किया। उन्होंंने सोशल मीडिया पर इसका प्रचार किया। ख़ासकर अपने ट्विटर अकाउंट पर अचार की तस्वीर ट्वीट करते हुए उन्होंंने कुछ इस तरह लिखा कि महिलाओं के द्वारा 'अमेठी अचार-एक ब्रैंड जन्मा, विकसित हुआ और बढ़ रहा है। ये सब अप्रैल 2017 में खुले प्रधानमंत्री कौशल केंद्र (पीएमकेके) में हो रहा है'।



यही नहीं केंद्रीय मंत्री ने ट्विटर वॉल को हैंडल करते हुए एक दूसरी पोस्ट भी डाली। इस पर उन्होंंने लिखा कि ''अमेठी पिकल्स 'अमेठी की महिलाओं के प्रदर्शन की क्षमता और उद्यमशीलता कौशल का प्रदर्शन 17-18 फरवरी 2018 को नई दिल्ली में आयोजित होने वाले' प्लेटेटर-स्किल इंडिया पविलियन वर्ल्ड पर प्रदर्शित किया जाएगा।''

PMKVY योजना के अंतर्गत देश भर में चल रही इस तरह की ट्रेनिंग

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (पीएमकेवीवाई) युवाओं के कौशल प्रशिक्षण के लिए चलाई जा रही एक प्रमुख योजना है। इसके तहत पाठ्यक्रमों में सुधार, बेहतर शिक्षण और प्रशिक्षित शिक्षकों पर विशेष जोर दिया गया है। इसके अंतर्गत देश के 24 लाख युवाओं को विभिन्न उद्योगों से संबंधित स्किल ट्रेनिंग पाने का अवसर मिलेगा। इस योजना के अंतर्गत स्किल ट्रेनिंग पाने वाले युवाओं को सरकार द्वारा आर्थिक इनाम भी मिलता है। ट्रेनिंग खत्म होने पर इन युवाओं को सरकार की ओर से एक प्रमाण पत्र मिलेगा।

priyankajoshi

priyankajoshi

इन्होंने पत्रकारीय जीवन की शुरुआत नई दिल्ली में एनडीटीवी से की। इसके अलावा हिंदुस्तान लखनऊ में भी इटर्नशिप किया। वर्तमान में वेब पोर्टल न्यूज़ ट्रैक में दो साल से उप संपादक के पद पर कार्यरत है।

Next Story