भारत की सबसे ऊंची बिल्डिंग का नाम अब ‘42 चौरंगी’

65 मंजिली इमारत ‘द 42’ की लंबाई 268 मीटर है। पहले इस बिल्डिंग को सिर्फ 61 मंजिल का बनाया जा रहा था जिससे यह देश की दूसरे नंबर की ही इमारत बन पाती लेकिन बाद में चार मंजिल और बनाने की परमिसन मिलने के साथ यह आज देश की सबसे बड़ी इमारत बन गयी है।

फाइल फोटो

लखनऊ: टाटा सेंटर, चटर्जी इंटरनैशनल और एवरेस्‍ट हाउस जैसी इमारतों ने करीब पांच दशकों से कोलकाता की ऊंची इमारतें होने का रुतबा हासिल कर रखा था लेकिन ये बात अब पुरानी हो गयी है। क्योंकि जब कोलकाता के जवाहर लाल नेहरू रोड स्थित इमारत ‘42 चौरंगी’ की 65वीं मंजिल की छत डाली गई तो यह कोलकाता के साथ ही भारत की भी सबसे ऊंची बिल्डिंग बन गई। इसने साउथ मुंबई की इंपीरियल बिल्डिंग को पछाड़कर यह उपाधि हासिल की है।

65 मंजिली इमारत ‘द 42’ की लंबाई 268 मीटर है। पहले इस बिल्डिंग को सिर्फ 61 मंजिल का बनाया जा रहा था जिससे यह देश की दूसरे नंबर की ही इमारत बन पाती लेकिन बाद में चार मंजिल और बनाने की परमिसन मिलने के साथ यह आज देश की सबसे बड़ी इमारत बन गयी है।

ये भी देखें: दिल्ली में नामांकन करने वालों में मैनेजर चौरसिया, दिलीप कुमार शामिल

पिछले साल लग गई थी आग-

पिछले साल निर्माणकार्य के दौरान 42 चौरंगी इमारत में आग लग गई थी। इस आग की वजह एसी की सुरक्षा के लिए लगाए गए नायलॉन जाल थी जिसमें लगी आग फैल गई थी। हालांकि इस हादसे में कोई घायल नहीं हुआ और मौके पर पहुंची तीन दमकल गाड़ियों ने आग पर काबू पा लिया था।

ये भी देखें: वर्षा प्रभावित क्षेत्रों में हालात पर केंद्र की गहरी नजर: राजनाथ

देश की और बड़ी इमारतें-

  • इंपीरियल बिल्डिंग देश की दूसरी सबसे बड़ी इमारत है, जो कि मुंबई में है। यह इमारत करीब 256 मीटर (840 फीट) ऊंची है। इसके दो अलग-अलग टावर हैं जिनमें 60 फ्लोर हैं। यह शपूरजी पालोनजी और दिलीप ठाकर का ज्‍वाइंट वेंचर प्रोजेक्‍ट है, जो 2010 में बनकर तैयार हुआ था।
  • आहुजा टावर देश की तीसरी सबसे बड़ी इमारत है, यह करीब 248.5 मीटर ऊंची (815 फीट) ऊंची है। इसमें फ्लोर की संख्‍या 54 है और यह पूरी तरह से रेजिडेंशियल है। यह 2014 2010 में बनकर तैयार हुआ था।
  • वन अविघना पार्क देश के चौथी सबसे बड़ी इमारत है इसकी ऊंचाई 247 मीटर (810 फीट) है, यह पूरी तरह से रेजिडेंशियल बिल्डिंग है जिसमें 61 फ्लोर हैं। यह मुंबई के लॉवर परेल में स्थित है। इस लग्‍जरी रेजिडेंशियल टावर को कई अवार्ड मिल चुके हैं। यह इमारत 2017 में बनकर तैयार हुई थी।
  • लोधा अल्टामाउंड देश की पांचवी सबसे बड़ी इमारत है, इसकी ऊंचाई करीब 240 मीटर (787 फीट) है। अल्‍टामाउंट रोड की गिनती दुनिया की दसवीं सबसे महंगी सड़कों में की जाती है। 40 मंजिला इस इमारत के पास ही मुकेश अंबानी और कुमारमंगलम बिड़ला का भी घर है। यह इमारत 2018 में बनकर तैयार हुई थी। जो कि मुंबई में स्थित है।