×

ओडिशा में 7 गांव गायब, मंदिर में नहीं हैं देवता, जानिए क्या हुआ ऐसा

ओडिशा में तटीय कटाव के चलते सात गांव राज्य के नक्शे से गायब हो चुके हैं सतभाया में 700 परिवारों का आशियाना रहा करता था।

Shraddha

ShraddhaBy Shraddha

Published on 6 April 2021 9:48 AM GMT

ओडिशा में 7 गांव गायब, मंदिर में नहीं हैं देवता, जानिए क्या हुआ ऐसा
X

photos (social media)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

केंद्रपड़ा : ओडिशा में तटीय कटाव के चलते सात गांव इस राज्य के नक्शे से गायब हो चुके हैं। आपको बता दें कि ओडिशा के सतभाया (Satabhaya) में कभी 700 परिवारों का आशियाना रहा करता था। बताया जाता है कि सतभाया में 7 गांवों का एक समूह रहा करता था। जो अब वीराना हो गया है। इस जगह अब रेत का मैदान, पेड़ और मवेशी ही दूर - दूर तक नजर आ रहे हैं। इस तटीय कटाव के चलते ये सात गांव राज्य के नक्शे से लगभग मिट चुके हैं।

सतभाया में 700 परिवारों का आशियाना रहा करता था

ओडिशा के सतभाया में 700 परिवारों का आशियाना रहा करता था। लेकिन अब यहां सिर्फ रेत का मैदान, पेड़ और मवेशी ही नजर आ रहे हैं। इस सुधार के लिए राज्य सरकार ने कदम उठाए हैं। इन जगहों पर कई परिवार अपनी छुट्टियां मनाने आया करते थे। अब यहां केवल प्रफुल्ल लेंका जाते हैं। बताया जाता है कि लेंका का 6 सदस्यीय परिवार उन 571 लोगों में शामिल है जिसे जिला प्रशासन ने बागपटिया की कॉलोनी में पहुंचाया था।

प्रशासन ने पक्का घर योजना के तहत हर परिवार को दे रही यह सुविधा

जिला प्रशासन ने यहां के 571 लोगों को बागपटिया की कॉलोनी में भेज दिया। जिसके बाद 148 में से 118 परिवारों के पुनरुत्थान के आदेश जारी कर दिए हैं। बताया जा रहा है कि अभी 30 परिवारों का पेपरवर्क अभी बाकी है। इस गांव की जीविका को समुद्र ने छीन लिया। इस घटना के बाद प्रशासन ने पक्का घर योजना के तहत हर परिवार को 10 डेसिमिल जमीन और प्रत्येक को 1. 5 लाख रुपये मकान निर्माण के लिए देगा।

photos (social media)

समुद्र ने जमीन को भी काफी नुकसान पहुंचाया है

गांव के एक लाभार्थी बाबू मलिक बताते हैं कि हमारी जीविका और हमारे घर को समुद्र ने छीन लिया है। बताया जा रहा है कि इन्होंने 4 सालों में यह चौथी बार हुआ है जब उन्हें अपना घर बदलना पड़ रहा है। इस घटना से समुद्र ने जमीन को भी काफी नुकसान पहुंचाया है। आपको बता दें कि इन गावों के लोगों ने केरल, गुजरात और तमिलनाडु पहुंचकर नौकरियां करना शुरू कर दी है।

दोस्तों देश दुनिया की और को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shraddha

Shraddha

Next Story