Top

सिख दंगा: बीजेपी के निशाने पर कमलनाथ, दिग्विजय ने किया पलटवार

सिख दंगों में कांग्रेस नेता सज्जन कुमार को उम्रकैद की सजा सुनाए जाने के बाद कांग्रेस विरोधियों के निशाने पर है। केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने मध्य प्रदेश में कमलनाथ को सीएम बनाने के कांग्रेस के फैसले पर कहा, यह विडंबना है कि फैसला उस दिन आया है जब सिख समाज जिस दूसरे नेता को दोषी मानता है, कांग्रेस उसे मुख्यमंत्री की शपथ दिला रही है।

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 17 Dec 2018 7:33 AM GMT

सिख दंगा: बीजेपी के निशाने पर कमलनाथ, दिग्विजय ने किया पलटवार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली : सिख दंगों में कांग्रेस नेता सज्जन कुमार को उम्रकैद की सजा सुनाए जाने के बाद कांग्रेस विरोधियों के निशाने पर है। केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने मध्य प्रदेश में कमलनाथ को सीएम बनाने के कांग्रेस के फैसले पर कहा, यह विडंबना है कि फैसला उस दिन आया है जब सिख समाज जिस दूसरे नेता को दोषी मानता है, कांग्रेस उसे मुख्यमंत्री की शपथ दिला रही है।



ये भी देखें : कमल के शपथ ग्रहण से दूर रहेंगी ममता, माया और अखिलेश

कांग्रेस की ओर से दिग्विजय सिंह ने पलटवार करते हुए ट्वीट किया, अरुण जेटली जी आपसे यह उम्मीद नहीं थी। कमलनाथ जी पर ना तो इस प्रकरण में कोई FIR है ना चार्जशीट है और ना किसी अदालत में कोई प्रकरण है। 91 से केंद्र में मंत्री रहे तब आपको कोई आपत्ति नहीं थी, अब आपको क्या हो गया?'

ये भी देखें : 1984 सिख विरोधी दंगे: कांग्रेस नेता सज्जन कुमार दोषी करार, उम्रकैद की सजा



क्या बोले जेटली

जेटली ने कहा, कांग्रेस 1984 की सच्चाई सामने नहीं आने देना चाहती थी, आज जो निर्णय आया है। हम एनडीए की तरफ से इसका स्वागत करते हैं। 1984 से बड़ा नरसंहार इस देश ने कभी नहीं देखा। मासूमों, बुजुर्गों और महिलाओं की हत्याएं हुईं। उन्होंने कहा कि सिख दंगों का दाग कांग्रेस के दामन से कभी नहीं धुलेगा।



वित्त मंत्री ने कहा कि 84 दंगों का फैसला भले ही विलंब से आया हो पर न्याय मिलना शुरू हो गया है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story