Top

एसिड अटैक पीड़िताओं के शीरोज कैफे पहुंचे अखिलेश यादव, बोले- किसी हाल में न बंद हो कैफे

sudhanshu

sudhanshuBy sudhanshu

Published on 7 Oct 2018 2:17 PM GMT

एसिड अटैक पीड़िताओं के शीरोज कैफे पहुंचे अखिलेश यादव, बोले- किसी हाल में न बंद हो कैफे
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव रविवार को लखनऊ में शीरोज हैंग आउट कैफे पहुंचे। यहां उन्होंने एसिड पीड़िताओं से मुलाकात की। इस दौरान अखिलेश यादव ने कहा कि सरकार के पास बहुत विकल्प हैं। सरकार पैसा कमाने के लिए और भी काम कर सकती है। एसिड पीड़िताओं को इससे जीवन में नई रोशनी मिली है। इनके जीवन की दशा बदल गई है। मैं सरकार से अपील करता हूं कि शीरोज कैफे को किसी भी हाल में बंद न होने दें। अखिलेश यादव ने कहा कि सरकार को सोचना चाहिए कि आप पैसा कमाना चाहते हैं तो और भी बिल्डिंग हैं। एसिड पीड़ित बच्चियों को नहीं हटाना चाहिए।

एसिड पीडिताओं का एकमात्र सहारा है कैफे

अखिलेश यादव ने कहा कि ये कैफे बहुत दिनों से चल रहा है। तमाम तकलीफों के बाद लड़कियां जीवन को दिशा दे रही हैं। मुझे दुःख है इस बात का कि सरकार बड़े-बड़े काम कर सकती है लेकिन इसे छीनना चाहती है। सरकार को इस पर विचार करना चाहिए। पैसा कमाने वालों के लिए जेपीएनआईसी भी है। बच्चों को यह कैफे चलाने दें। अखिलेश यादव ने कहा कि तीन में किसी को कर लेने दो। शीरोज कैफे जो लेना चाहते हैं, उनको एक मिल जाएगा। जो कंपनी शीरोज को छीनना चाहती हैं, उनको मेरा सुझाव है कि जेपीएनआईसी और पुलिस की विल्डिंग है, उसमे से एक ले लीजिए। पर ये कैफे न बंद हो।

sudhanshu

sudhanshu

Next Story