Top

अखिलेश यादव की सलाह - हनुमान चालीसा पढ़ोगे तो नहीं भागेंगे बंदर

sudhanshu

sudhanshuBy sudhanshu

Published on 29 Oct 2018 2:41 PM GMT

अखिलेश यादव की सलाह - हनुमान चालीसा पढ़ोगे तो नहीं भागेंगे बंदर
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

फिरोजाबाद: जिले की शिकोहाबाद स्थित जे एस यूनिवर्सिटी के कनवोकेशन में पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने सोमवार को शिरकत की। इस मौके पर उनके साथ सपा के राष्‍ट्रीय महासचिव प्रोफेसर रामगोपाल यादव भी मौजूद थे। वहां उन्‍होंने मंच से सलाह देते हुए कहा कि हनुमान चालीसा पढ़ोगे तो बंदर नहीं भागेंगे बल्कि और ज्‍यादा बंदर आपके पास आ जाएंगे। अखिलेश यादव के इस कथन के कई सियासी मायने लगाए जा रहे हैं।

ये भी देखें: भाजपा दफ्तर की बैठक में सीएम नहीं, 5 कालीदास पर होगी दोबारा बड़ी बैठक

नोटबंदी ने किया नुकसान

पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने कहा कि नोटबंदी में सरकार ने सबके नोट निकलवा कर बैंक के अंदर करवा दिए। देश में ऐसे दो हज़ार लोग हैं, जो बैंक में रूपया वापस नहीं करना चाहते हैं। इसकी दोषी बीजेपी है। बीजेपी ने सबको 15 लाख के सपने दिखाए। भाजपा वाले लोकसभा से पहले कितना सच बोलते हैं, ये सबको पता है।

ये भी देखें:गार्ड सिगरेट नहीं लाया तो मॉडल ने किया हंगामा, कपड़े दिए उतार

पर्यावरण के मामले पर बोले अखिलेश

पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने कहा कि प्रदूषण का स्‍तर कम करना भारत सरकार की जिम्मेदारी है। बीजेपी ने गंगा को बचाने के लिये सफाई अभियान चलाने का नाटक किया। सबसे ज्‍यादा वही लोग गंगा को प्रदूषित कर रहे हैं।

ये भी देखें:आयुष्मान भारत: प्रमुख सचिव को डर, कहीं हो न जाए फर्जीवाड़ा, खुद करी अपील

मिशन ठोंको पर बोले अखिलेश

पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने कहा कि पुलिस अपराधियों को तो ठोंक रही है। वहीं पुलिस जनता को भी ठोंक रही है। प्रदेश में कानून नाम की चीज नहीं रही है।

राम मंदिर के नाम पर खुद रही खाई

अखिलेश यादव ने कहा कि विकास पर बहस होनी चाहिए। यह वो लोग हैं जो राम मंदिर के नाम पर समाज में खाई खोद रहे हैं। न्याय पालिका का सम्मान करना चाहिए।

sudhanshu

sudhanshu

Next Story