सर्वदलीय बैठक: शिवसेना नेता ने PM से कहा-महाराष्ट्र में सरकार बनाना आपके हाथ में

शीतकालीन सत्र से पहले आज सुबह सर्वदलीय बैठक हो रही है। भाजपा की कार्यकारिणी की बैठक दोपहर 1 बजे होगी और उसके बाद NDA की बैठक होगी, दोपहर 3.30 बजे, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला विभिन्न दलों के नेताओं के साथ बैठक करेंगे।

नई दिल्ली: संसद का शीतकालीन सत्र शुरू होने से पहले सभी पार्टी दलों की आज संसद भवन की लाइब्रेरी बिल्डिंग में बैठक जारी है। इस बैठक को संसदीय कार्य मंत्री प्रहलाद जोशी ने बुलाई है। इस बैठक में सभी दलों के सांसद शामिल हैं। इस सर्वदलीय बैठक में जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला को हिरासत में रखे जाने का मुद्दा भी उठा।

ये भी पढ़ें— गंगा प्रदूषण पर कानून: गंदगी फैलाई तो होगी 5 साल की जेल और 50 करोड़ जुर्माना

इस बैठक में पीएम मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत, अर्जुन राम मेघवाल पहुंचे हैं। संसद का शीतकालीन सत्र सोमवार से शुरू होने जा रहा है। दिल्ली में अनधिकृत कॉलोनियों, कॉर्पोरेट टैक्स, आर्थिक मंदी और बेरोजगारी को लेकर सरकार पर विपक्ष ने निशाना साधने की योजना बनाई है।

शिवसेना नेता विनायक राऊत ने PM से कहा…

सूत्रों के अनुसार सर्वदलीय बैठक के दौरान प्रधान मंत्री मोदी और गृहमंत्री अमित शाह का सामना शिवसेना नेता विनायक राऊत से हुआ, इस दौरान रामदास अठावले ने महाराष्ट्र में सरकार का मुद्दा छेड़ दिया। पीएम मोदी ने कहा कि बालासाहेब की आज पुण्यतिथि है वे महान नेता थे, राउत बोले सरकार बनाना आपके हाथ में हैं।

बैठक में ये नेता रहे मौजूद

बैठक में केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत, लोकसभा में नेता विपक्ष और कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी, राज्यसभा में कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद और आनंद शर्मा शामिल हुए. इसके अलावा टीएमसी नेता डेरेक ओ ब्रायन, एलजेपी नेता चिराग पासवान, समाजवादी पार्टी नेता राम गोपाल यादव, तेलुगू देशम पार्टी नेता जयदेव गल्ला, वी विजयसाई रेड्डी भी बैठक का हिस्सा रहे। इसके अलावा राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू ने भी राज्य सभा के नेताओं की मीटिंग बुलाई है, जिसमें उन्होंने सदन को सुचारू रूप से चलाने की अपील किया।

ध्यान रहे कि विपक्ष ने शनिवार को साफ कर दिया कि वह मंदी, बेरोजगारी और किसानों के मुद्दे के अलावा जम्मू-कश्मीर में धारा 370 हटाए जाने और वहां की स्थिति के बारे में भी सरकार से सवाल करेगा। कांग्रेस गांधी परिवार की एसपीजी सुरक्षा हटाए जाने के मुद्दे को लेकर भी विपक्ष सरकार को घेरेगा।

ये भी पढ़ें— आतंकी ​हमला: रात भर में कर दी 15 लोगों की हत्या, मचा हड़कंप

बता दें कि NDA की बैठक में शिवसेना नहीं शामिल होगी। इस बैठक में एनडीए के सहयोगी अन्य सभी दल शामिल होंगे। इस बैठक में झारखंड़ चुनाव पर भी चर्चा होगी। साथ ही सभी पाटियों से उनके विचार भी सुने जाएंगे।

शीतकालीन सत्र में पास कराए जाएंगे 27 नए बिल

जानकारी के अनुसार संसद के शीतकालीन सत्र में सरकार इस बार 27 नए बिल पास कराने की तैयारी में है। इसमें प्रमुख रूप से सिटिजनशिप अमेंडमेंट बिल,नेशनल रिवर गंगा बिल, पर्सनल डेटा प्रोटेक्शन बिल शामिल हैं, जिनको चर्चा के बाद पास कराने की कोशिश की जाएगी।