Top

पूर्वांचल एक्सप्रेसवे के शिलान्यास पर उठे सवालों का डिप्टी सीएम ने दिया ये जवाब

Manali Rastogi

Manali RastogiBy Manali Rastogi

Published on 14 July 2018 9:33 AM GMT

पूर्वांचल एक्सप्रेसवे के शिलान्यास पर उठे सवालों का डिप्टी सीएम ने दिया ये जवाब
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: पूर्वांचल एक्सप्रेसवे के शिलान्यास पर सपा मुखिया अखिलेश यादव ने योगी सरकार को घेरते हुए कहा उनकी सरकार के कामों का फीता दोबारा काटा जा रहा है। डिप्टी सीएम डॉ दिनेश शर्मा ने उनके इस आरोप में जवाब में अखिलेश यादव का नाम लिए बगैर कहा कि कुछ लोग अभी भी दिवास्वप्न मे हैं कि यह काम मैंने किया है। उन्हें आज भी मैं ही दिख रहा है। सत्ता किसी की नही होती। यह जनता की योजना है। ऐसे लोगों को दिवास्वप्न देखने का काम बंद करना चाहिए।

यह भी पढ़ें: पीएम मोदी आज पूर्वांचल से खींचेंगे विकास का नया खाका, जाने क्यों खास है आजमगढ़

डॉ शर्मा ने कहा कि पिछली सरकारों में शिलान्यास और पत्थरों का दौर चला। वह जनता के हित में नहीं था। किसी योजना का सिर्फ शिलान्यास हुआ। पर काम नहीं हुआ। दूसरी सरकार यदि वह काम करती है तो कहते हैं कि यह मेरा काम है। पर हमारी सरकार ने तय किया है कि जिन कामों का शिलान्यास करेंगे। उसे पूरा भी करेंगे।

पिछली सरकार ने हास्यापद स्थिति पैदा कर दी थी

उन्होंने कहा कि पिछली सरकार ने हास्यापद स्थिति पैदा कर दी थी। नियम है कि किसी भी योजना को जमीन पर उतारने से पहले 90 फीसदी जमीन अधिग्रहित होनी चाहिए। सपा सरकार में पूर्वांचल एक्सप्रेस वे की सिर्फ 32 फीसदी जमीन अधिग्रहित की गई थी। लागत से सात फीसदी ज्यादा बिड आई थी। सत्ता में आने के बाद योगी सरकार ने उसका बिड निरस्त किया और काम शुरू किया।

उसकी लागत 11836.02 करोड़ थी। इस पर बिड एस्टिमटेड कॉस्ट से 5.24 प्रतिशत कम आई। वर्तमान में 92 फीसदी जमीन अधिग्रहित हो चुकी है। पिछली सरकार में निर्माण के पहले जरूरी स्वीकृतियां नहीं ली गई थी। हमारी सरकार ने सभी स्वीकृतियां ले ली हैं। पिछली सरकार ने मॉनिटरिंग के लिए इंजीनियर भी नही नियुक्त किये थे, हमने किया है।

बृजलाल ने सपा पर लगाया तुष्टिकरण का आरोप

पूर्व स्पेशल डीजी और यूपी एससी/एसटी आयोग के चेयरमैन बृजलाल ने सपा पर तुष्टिकरण का आरोप लगाते हुए कहा कि पिछली सरकार में पुलिस वालों पर तमंचे से हमले हुए करते थे। पुलिस वालों की इंसास राइफलें नहीं चला करती थी। बागपत जेल में माफिया डान मुन्ना बजरंगी की हत्या का जिक्र करते हुए उन्होंने पिछली सरकार में जेल में घटित घटनाएं गिनाईं।

Manali Rastogi

Manali Rastogi

Next Story