Top

सपा में फिर घमासान: अपर्णा बोली-अखिलेश नहीं, शिवपाल की पार्टी से लडूंगी चुनाव

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 1 Nov 2018 6:10 AM GMT

सपा में फिर घमासान: अपर्णा बोली-अखिलेश नहीं, शिवपाल की पार्टी से लडूंगी चुनाव
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बाराबंकी: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव और मुलायम की छोटी बहू अपर्णा यादव के बीच सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है। ऐसा हम नहीं कह रहे है बल्कि हाल के दिनों में आई कुछ मीडिया रिपोर्ट्स ये बात कह रही है। अपर्णा कई मौकों पर समाजवादी पार्टी (अखिलेश यादव) से हटकर बयान देते हुए देखी गई है।

इसी कड़ी में अपर्णा यादव का एक और बयान सामने आया है। जिसने अपर्णा यादव की अखिलेश यादव के साथ नाराजगी को जगजाहिर कर दिया है।

अपर्णा यादव ने साफ कहा कि अगर उनको अखिलेश यादव या शिवपाल सिंह यादव में से किसी एक को चुनने का अवसर मिलेगा तो वह चाचा शिवपाल सिंह यादव के साथ रहेंगी।

[video width="640" height="352" mp4="http://newstrack.com/wp-content/uploads/2018/11/barabanki-aparna-yadav-1.mp4"][/video]

मंगलवार को मुलायम सिंह यादव पहली बार लखनऊ में शिवपाल सिंह यादव की पार्टी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के ऑफिस में पहुंचे। इसके थोड़ी देर बाद बाद ही वे सपा कार्यालय भी गये। वहां पर उन्होंने कार्यकर्ताओं से लोकसभा चुनाव की तैयारी में जुटने को कहा।

इसी तरह का निर्देश उन्होंने शिवपाल सिंह यादव की पार्टी के कार्यकर्ताओं को भी दिया था। ऐसे में अपर्णा यादव ने अपनी लाइन तय कर ली है। वह भविष्य में अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी नहीं बल्कि शिवपाल सिंह यादव की पार्टी से चुनाव लडऩा चाहती है।

[video width="640" height="352" mp4="http://newstrack.com/wp-content/uploads/2018/11/barabanki-aparna-yadav-2.mp4"][/video]

बता दे कि मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव सामाजिक कार्यों में बढ़चढ़कर हिस्सा लेने के लिए जानी जाती हैं। अपर्णा यादव ने माना है कि 2019 के लोकसभा चुनाव में शिवपाल सिंह यादव के समाजवादी पार्टी से अलग होने से बड़ा फर्क पड़ेगा। अगर उन्हें चुनाव लडऩे का मौका मिला तो अखिलेश या शिवपाल में से वह अपने चाचा शिवपाल और नेता जी मुलायम सिंह यादव को चुनेंगी।

[video width="640" height="352" mp4="http://newstrack.com/wp-content/uploads/2018/11/barabanki-aparna-yadav-3.mp4"][/video]

ये भी पढ़ें...अयोध्या में बनना चाहिए राम मंदिर: अपर्णा यादव

ये भी पढ़ें...अखिलेश विरोधी कुनबा हो रहा है बड़ा, मुलायम के बाद अपर्णा भी शिवपाल के साथ

ये भी पढ़ें...अपर्णा बोलीं : मुझे अपनों ने हराया, अखिलेश भैया को पता है मै योगी के करीब हूं

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story