Top

आशुतोष ने AAP पर लगाया जातिवादी होने का आरोप! फिर दी ये सफाई

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 29 Aug 2018 8:43 AM GMT

आशुतोष ने AAP पर लगाया जातिवादी होने का आरोप! फिर दी ये सफाई
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी से इस्तीफा देने के बाद आशुतोष ने पार्टी पर हमला किया है। उन्होंने एक ट्वीट कर आरोप लगाया कि लोकसभा चुनाव के दौरान पार्टी नेताओं ने उनसे उनकी जाति का इस्तेमाल करने को कहा था।

आशुतोष ने ट्वीट कर ‘आप’ पर लगाया ये आरोप

पत्रकारिता छोड़ राजनीति में आए आशुतोष ने ट्वीट कर लिखा, '23 साल के पत्रकारिता के करियर में उन्हें कभी खुद की जाति का इस्तेमाल नहीं करना पड़ा, लेकिन जब मैं आम आदमी पार्टी के टिकट से चुनाव लड़ा तब मुझसे ऐसा करने को कहा गया। '

चांदनी चौक संसदीय सीट से लोकसभा चुनाव में पार्टी के उम्मीदवार रहे आशुतोष ने आगे लिखा कि जब मुझे 2014 लोकसभा चुनाव लड़ने के दौरान कार्यकर्ताओं से मिलवाया गया तो मेरे सरनेम का इस्तेमाल किया गया। मैंने इसका विरोध किया था। तब मुझसे कहा गया कि सर आप जीतोगे कैसे, आपकी जाति के यहां काफी वोट हैं।



अपने आरोपों पर खुद ही दी सफाई

हालांकि एक दूसरे ट्वीट में अपने बातों पर सफाई दी। उन्होंने लिखा- 'टीवी के चील- गिद्धों ने मेरे ट्वीट को गलत समझा। मैं 'आप' में नहीं हूं ना ही पार्टी के अनुशासन से बंधा हूं। अपने विचार व्यक्त करने के लिए स्वतंत्र हूं। मेरे शब्दों का इस्तेमाल कर 'आप' पर हमला करना गलत है। ये मीडिया की स्वतंत्रता का गलत इस्तेमाल है. मुझे बख्श दो। मैं 'आप' का कार्यकर्ता नहीं हूं। '

बता दें, इससे पहले 15 अगस्त को आशुतोष ने पार्टी छोड़ने का ऐलान किया था। हालांकि ट्वीट में उन्होंने पार्टी छोड़ने की वजह निजी बताई थी, लेकिन कयास लगाए जा रहे थे कि को राज्यसभा में उन्हें न भेजे जाने से वो नाराज थे।



आप के एक और नेता ने सरनेम हटाया

इस बीच खबर यह भी है कि आम आदमी पार्टी की वरिष्ठ नेता आतिशी मारलेना ने अपने नाम से 'मारलेना' हटाने का फैसला किया है। आतिशी के नाम बदलने से कई सवाल खड़े हो रहे हैं। आतिशी ने बताया कि मर्लेना असल में उनका सरनेम नहीं है। यह दिया गया उपनाम है। आतिशी का कहना है कि उनका सरनेम सिंह है, लेकिन उन्होंने खुद यह फैसला किया कि चुनाव के लिए वह सिर्फ आतिशी नाम का ही इस्तेमाल करेंगी।

हालांकि पार्टी ने इस बात से इनकार किया है कि क्रिश्चियन नाम जैसा लगने के कारण उनके ऊपर 'मारलेना' शब्द हटाने का कोई दबाव बनाया गया है। पार्टी में ही किसी सूत्र ने बताया कि उनका सरनेम 'मारलेना' नहीं है बल्कि 'सिंह' है।

मारलेना सरनेम उनके मां-बाप ने उन्हें दिया था. अब उन्होंने 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए सिर्फ 'आतिशी' नाम का प्रयोग करने का फैसला लिया है। उनके ट्विटर अकाउंट में भी इस बदलाव का असर दिखा है. पहले उनका ट्विटर @Atishimarlena था जो कि अब @AtishiAAP हो गया।

ये भी पढ़ें...AAP से आशुतोष का इस्तीफा तो बोले केजरीवाल- ना, इस जीवन में तो नहीं

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story