Top

Assembly Election 2018 Results: BJP की करारी हार के पीछे जिम्मेदार हैं ये 4 कारण

बीजेपी को मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ के विधानसभा चुनावों में तगड़ा झटका लगा है। बता दें, हिंदी बेल्ट के इन तीनों राज्यों में बीजेपी को जबरदस्त हार का सामना करना पड़ा।

Manali Rastogi

Manali RastogiBy Manali Rastogi

Published on 12 Dec 2018 4:38 AM GMT

Assembly Election 2018 Results: BJP की करारी हार के पीछे जिम्मेदार हैं ये 4 कारण
X
Assembly Election 2018 Results: BJP की करारी हार के पीछे जिम्मेदार हैं ये 5 कारण
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: बीजेपी को मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ के विधानसभा चुनावों में तगड़ा झटका लगा है। बता दें, हिंदी बेल्ट के इन तीनों राज्यों में बीजेपी को जबरदस्त हार का सामना करना पड़ा। ऐसे में ये हार 2019 लोकसभा चुनाव के लिए किसी खतरे की घंटी से कम नहीं है। वैसे सोचने वाली बात ये है कि पिछले 4 सालों में बीजेपी ने ऐसा क्या किया कि जनता ने वोट नहीं दिया। आइए, जानते हैं ऐसे ही 4 कारण जिनकी वजह से बीजेपी हार गई।

किसानों में नाराजगी

ग्रामीण आबादी मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में ज्यादा है। यहां शहरी आबादी कम और किसान ज्यादा हैं। ये बात किसी से नहीं छिपी है कि बीजेपी से किसान काफी नाराज हैं क्योंकि उनका कर्ज नहीं माफ़ किया जा रहा है। बता दें, इन राज्यों में 70 से 80 फीसदी किसान हैं जोकि कृषि पर निर्भर हैं।

यह भी पढ़ें: Assembly Election 2018 Results: BJP की करारी हार के पीछे जिम्मेदार हैं ये 5 कारण

किसानों की मांगों पर ध्यान न देने की वजह से बीजेपी ने इन राज्यों में अपनी सत्ता खो दी। दरअसल, किसान पिछले साल से लगातार विरोध-प्रदर्शन कर रहे थे लेकिज बीजेपी ने उन्हें दरकिनार कर दिया। इसके अलावा जब किसानों ने राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में आकर विरोध-प्रदर्शन करना चाहा, तभी मोदी सरकार ने उन्हें भाव नहीं दिया और दिल्ली की सीमा के बाहर ही रोक दिया।

नोटबंदी और जीएसटी लागू करना पड़ा भारी

नोटबंदी और जीएसटी का व्यापारी वर्गों पर काफी गहरा असर पड़ा। बता दें, व्यापारी वर्ग हमेशा से बीजेपी का समर्थन करता आया है लेकिन नोटबंदी और जीएसटी की वजह से व्यापारी वर्ग को अपने बिजनेस में भारी नुकसान उठाना पड़ा, जिसकी वजह से बीजेपी को इस बार इस तबके से वोट नहीं मिले।

यह भी पढ़ें: Assembly Election 2018 Results: जनता जनार्दन ने तीन राज्यों में कांग्रेस की करायी वापसी, मिजोरम में मिली शिकस्त

कांग्रेस ने भी पांचों राज्यों के विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान इन मुद्दों को जमकर उछाला। इन मुद्दों को उठाने से कांग्रेस वोट बटोरने में सफल रही।

युवाओं को रोजगार न दे पाना

पिछले 15 साल से बीजेपी मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में राज कर रही थी लेकिन इस दौरान बीजेपी बेरोजगारी नहीं खत्म कर पाई। बता दें, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साल 2014 में हुए लोकसभा चुनावों से पहले युवाओं से रोजगार देने का वादा किया था लेकिन 4 साल गुजर जाने के बाद भी वह ऐसा नहीं कर पाई। ऐसे में युवाओं का वोट भी इस बार कांग्रेस को गया।

राज्य सरकारों संग बीजेपी नहीं बैठा पाई तालमेल

केंद्र में बीजेपी सरकार है। मगर इसके बावजूद वह बीजेपी शासित राज्यों से अपना तालमेल नहीं बैठा पाई। बता दें, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में बीजेपी के पास क्रमशः शिवराज सिंह चौहान, रमन सिंह और वसुंधरा राजे सिंधिया जैसे बड़े चेहरे हैं। इनके अलावा बीजेपी के पास और कोई चेहरे नहीं, जिनके दम पर चुनाव जीता जा सके।

यह भी पढ़ें: हैप्पी वाला बड्डे रजनीकांत! ‘थलाइवा’ के बारे में यहां जानें रोचक बातें

Manali Rastogi

Manali Rastogi

Next Story