Top

राम मंदिर को लेकर सियासत गर्म, बाबा रामदेव ने भाजपा को लेकर दिया ऐसा बयान

suman

sumanBy suman

Published on 3 Dec 2018 6:31 AM GMT

राम मंदिर को लेकर सियासत गर्म, बाबा रामदेव ने भाजपा को लेकर दिया ऐसा बयान
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

जयपुर: लोकसभा चुनाव 2019 से पहले एक बार फिर राम मंदिर का मुद्दा फिर से गरमा गया है। राम मंदिर को लेकर सियासत गर्म है। इसी बीच योग गुरू बाबा रामदेव ने मंदिर निर्माण को लेकर एक बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि मंदिर के लिए बीजेपी को अध्यादेश लाना चाहिए। अगर ऐसा नहीं होता है तो लोगों का भाजपा से विश्वास उठा जाएगा। भाजपा लोगों का भरोसा खो देगी। बाबा रामदेव ने कहा कि किसी भी लोकतंत्र में संसद न्याय का सबसे बड़ा मंदिर है।

तेलंगाना में टीआरएस का गढ़ भेदने में जुटे कांग्रेस, भाजपा और ओवैसी

भाजपा की सरकार है वह चाहे तो मंदिर बनाने के लिए अध्यादेश ला सकती है। उन्होंने कहा कि करोड़ो लोग मंदिर को बनते हुए देखना चाहते हैं। भाजपा की सरकार होते हुए भी अगर मंदिर नहीं बनेगा तो पार्टी लोगों के बीच अपना विश्वास खो देगी। राम मंदिर राजनीति का नहीं देश के गौरव का विषय है। वह हमारे पूर्वज, हमारी संस्कृति और आत्मा हैं। उन्हें राजनीति से नहीं जोड़ा जाना चाहिए। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि यदि लोग अपने स्तर से मंदिर बनवाएंगे, तब इसका मतलब यह होगा कि वह न्यायपालिका या संसद का सम्मान नहीं करते।25 नवंबर को विहिप की ओर से आयोजित किए गए कार्यक्रम में साधू संतों नें शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में राम मंदिर की मांग उठाई थी। वहीं कुछ दिन पहले RSS की ओर से पूरे देश में जनसमर्थन जुटाने के लिए रथयात्रा भी शुरू हुई है।

suman

suman

Next Story