×

मिशन 2019: अमित शाह ने नियुक्त किए 17 राज्यों के नए प्रभारी

बीजेपी ने लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए 17 राज्यों में प्रभारी नियुक्त किए हैं। अध्यक्ष अमित शाह ने यूपी में तीन प्रभारी बनाए हैं। इनके नाम हैं गोवर्धन झड़ापिया, दुष्यंत गौतम और नरोत्तम मिश्रा, जबकि राजस्थान, आंध्र प्रदेश और मध्य प्रदेश के लिए दो-दो प्रभारियों की नियुक्ति हुई है।

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 26 Dec 2018 3:58 PM GMT

मिशन 2019: अमित शाह ने नियुक्त किए 17 राज्यों के नए प्रभारी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली : बीजेपी ने लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए 17 राज्यों में प्रभारी नियुक्त किए हैं। अध्यक्ष अमित शाह ने यूपी में तीन प्रभारी बनाए हैं। इनके नाम हैं गोवर्धन झड़ापिया, दुष्यंत गौतम और नरोत्तम मिश्रा, जबकि राजस्थान, आंध्र प्रदेश और मध्य प्रदेश के लिए दो-दो प्रभारियों की नियुक्ति हुई है।

ये भी पढ़ें…अब मुंबई में भारतीय सेना बनाएगी पुल, 31 जनवरी तक पूरा होगा काम

किसे कहां का मिला प्रभार

ये भी देखें : राम मंदिर को लेकर उद्धव का मोदी सरकार पर हमला, बोले- हिंदू मासूम हैं, मू्र्ख नहीं

आंध्र प्रदेश में वी मुरलीधरन और सुनील देवधर

मध्यप्रदेश में स्वतंत्रदेव सिंह और सतीश उपाध्याय

राजस्थान में सुधांशु त्रिवेदी और प्रकाश जावड़ेकर

नलिन कोहली को नागालैंड और मणिपुर

कैप्टन अभिमन्यु को चंडीगढ़ और पंजाब

गुजरात में ओम प्रकाश माथुर

असम में महेंद्रनाथ

छत्तीसगढ़ में अनिल जैन

बिहार में भूपेंद्र यादव

हिमाचल प्रदेश में तीरथ सिंह रावत

झारखंड में मंगल पांडेय

ओडिशा में अरुण सिंह

सिक्किम में नितिन नवीन

तेलंगाना में अरविंद लिम्बावली

उत्तराखंड में थावरचंद गहलोत को प्रभारी बनाया गया है।

ये भी देखें : विदेश से भारत में आकर जिस्मफरोशी का धंधा करती थी ये लेडी, ऐसे चढ़ी पुलिस के हत्थे

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story