Top

BIMSTEC समिट में भाग लेने के लिए दो दिवसीय दौरे पर नेपाल रवाना हुए पीएम मोदी

Manali Rastogi

Manali RastogiBy Manali Rastogi

Published on 30 Aug 2018 3:10 AM GMT

BIMSTEC समिट में भाग लेने के लिए दो दिवसीय दौरे पर नेपाल रवाना हुए पीएम मोदी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: बे ऑफ बंगाल इनिशिएटिव फॉर सेक्टोरल टेक्नीकल एंड इकॉनोमिक को-ऑपरेशन (BIMSTEC Summit) के चौथे सम्मेलन में शामिल होने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार सुबह पड़ोसी मुल्क नेपाल रवाना हो गए हैं। बता दें, आतंकवाद सहित सुरक्षा के विविध आयाम, मादक पदार्थो की तस्करी, साइबर अपराध, आपदाओं के अलावा कारोबार एवं कनेक्टिविटी जैसे कई मुद्दे इस बैठक के एजेंडे हैं।

यह भी पढ़ें: RBI रपट के बाद क्या मोदी माफी मांगेंगे : कांग्रेस

सभी सदस्य देश इन मुद्दों पर चर्चा करेंगे और आपसी सहयोग मजबूत करने पर जोर देंगे। वहीं, मोदी ने यात्रा पर रवाना होने से पहले अपनी फेसबुक वॉल पर लिखा कि वो इस सम्मेलन में बिम्सटेक देशों के नेताओं संग कई अहम मुद्दों पर चर्चा करेंगे। क्षेत्रीय सहयोग को मजबूत बनाने, कारोबारी संबंधों को प्रगाढ़ बनाने और शांतिपूर्ण एवं समृद्ध बंगाल की खाड़ी क्षेत्र के निर्माण में सामूहिक प्रयासों को आगे बढ़ाने जैसे मुद्दें इसमें शामिल हैं।

बांग्लादेश, भूटान, भारत, नेपाल, श्रीलंका, म्यांमार और थाईलैंड जैसे देश इस बैठक का हिस्सा हैं। ऐसे में इस बैठक में आपसी सहयोग बनाने पर जोर दिया जाएगा। वहीं, नेपाल के विदेश मंत्री प्रदीप ग्यावाली ने इस बैठक को लेकर कहा कि ‘यह नए नेपाली संविधान के लागू होने और हिमालयी राष्ट्र में नई सरकार के गठन के बाद काठमांडू में एक महत्वपूर्ण क्षेत्रीय बैठक है। सरकार शिखर सम्मेलन को उच्च महत्व देती है, जिसके लिए हमने कई समितियां बनाई हैं।’

गोवा में हुआ था पिछले बिम्सटेक का आयोजन

बता दें, भारत सक्रिय रूप से बिम्सटेक के लिए तैयार है, क्योंकि 2016 में गोवा में बिम्सटेक आउटरीच शिखर सम्मेलन का आयोजन किया गया था। इस बैठक में आतंकवाद से मुकाबले पर विचार विमर्श हुआ था।

दो दिवसीय है सम्मलेन

बिम्सटेक सम्मलेन की शुरुआत 30 अगस्त से हो रही है जबकि इस सम्मलेन का समापन समारोह 31 अगस्त को होगा। 30 अगस्त को सदस्य देशों के नेता संयुक्त बैठक करेंगे। इसके बाद 31 अगस्त को सदस्य देशों के नेताओं की मुलाकात एवं बैठकें होंगी, जिसके बाद दोपहर में सम्मलेन का समापन सत्र होगा।

Manali Rastogi

Manali Rastogi

Next Story