×

अटल अस्थि कलश यात्रा के बाद बीजेपी अटल बिहारी बाजपेयी को भूली, पोस्टर से तस्वीर गायब

बीजेपी का एक नारा बहुत ही बुलंद रहा है। बीजेपी की तीन धरोहर अटल,अडवाणी और मुरली मनोहर। बीजेपी के बदलते स्वरुप के साथ ही अपने तीनों वरिष्ट नेताओं को भुला दिया है। भारतीय जनता पार्टी कानपुर बुन्देलखण्ड बूथ अध्यक्ष सम्मलेन करने जा रही है।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 30 Jan 2019 5:07 AM GMT

अटल अस्थि कलश यात्रा के बाद बीजेपी अटल बिहारी बाजपेयी को भूली, पोस्टर से तस्वीर गायब
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

कानपुर: बीजेपी का एक नारा बहुत ही बुलंद रहा है। बीजेपी की तीन धरोहर अटल,अडवाणी और मुरली मनोहर। बीजेपी के बदलते स्वरुप के साथ ही अपने तीनों वरिष्ट नेताओं को भुला दिया है। भारतीय जनता पार्टी कानपुर बुन्देलखण्ड बूथ अध्यक्ष सम्मलेन करने जा रही है। मंच में लगे पोस्टर से भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी की तस्वीर को जगह नहीं मिली है।

इससे भी ज्यादा हैरानी वाली बात यह है कि कानपुर से सांसद डॉ मुरली मनोहर जोशी की तस्वीर को भी स्थान नहीं दिया गया है। यह वहीं बीजेपी के नेता है। जिन्होंने ने अटल बिहारी बाजपेई की अस्थियों की कलश यात्रा निकाल कर खूब वाह वाही लूटी थी। बल्कि देश भर की प्रमुख नदियों में अस्थियों को विसर्जित किया था।

ये भी पढ़ें...हर जगह रॉबर्ट वाड्रा के नाम से जानी जाती हैं प्रियंका, चुनाव आते ही हो जाती हैं गांधी: बीजेपी

बुधवार को बीजेपी के बूथ अध्यक्ष सम्मलेन में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह 17 जनपदों के 20 881 बूथ अध्यक्ष ,1887 सेक्टर संयोजक और 202 मंडल अध्यक्ष को संबोधित करेंगे। इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पाण्डेय राज्यपाल रामनाइक मौजूद रहेंगे।

बूथ अध्यक्ष सम्मलेन के लिए बहुत ही आलीशान मंच तैयार किया गया है। इस मंच पर एक बड़ा पोस्टर लगा हुआ हुआ है। जिसमें लिखा हुआ है कि अबकी बार फिर मोदी सरकार बूथ अध्यक्ष सम्मलेन। इस पोस्टर में एक तरफ मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ और बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पाण्डेय की तस्वीर लगी है।

पोस्टर में दूसरी तरह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की तस्वीर लगी है। इस पोस्टर में कही भी कानपुर से सांसद डॉ. मुरली मनोहर जोशी और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी की तस्वीर को जगह नहीं दी गई है।

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी का का कानपुर से गहरा लगाव रहा है। कानपुर के डीएवी कॉलेज से उन्होंने परास्नातक की डिग्री ली। कानपुर में रहकर उन्होंने राजनीति का हुनर सीखा और संघ की शाखा में जाकर राष्ट्रवाद का पाठ सीखा। कानपुर के लोग बीजेपी के इस बदलते रूप देखकर हैरान है।

ये भी पढ़ें...प्रियंका पर मंत्री का बयान बीजेपी की बौखलाहट और महिला विरोधी सोच का प्रमाण: कांग्रेस

2019 लोकसभा की जीत अटल जी को समर्पित

बीजेपी ने पूर्व प्रधानमंत्री मंत्री अटल बिहारी बाजपेयी के निधन के बाद कहा था कि 2019 लोकसभा की जीत अटल जी को समर्पित की जाएगी। बीजेपी ने इसके लिए एक अभियान भी चलाया था। उत्तर प्रदेश के सभी बूथों की पांच दीवारों पर 'जन-जन का संकल्प अटल ,फिर देश में खिले कमल ' का स्लोगन लिखवाया गया था।

पूरा कानपुर शहर अमित शाह में अमित शाह के आगमन के पोस्टर होर्डिंग लगे हुए है। जिसमें बीजेपी के स्थानीय नेता मुख्यमंत्री, प्रधानमंत्री और अमित शाह दिख रहे है। लेकिन किसी भी स्थानीय नेता से लेकर बड़े=बड़े नेताओ ने कही भी अपने बुजुर्ग नेताओ को होर्डिंग पोस्टर में जगह नहीं दी है।

इस विषय पर जब बीजेपी के कई नेताओं से बात करने का प्रयास किया गया तो लोगों ने सवाल सुनते ही इग्नोर कर दिया। किसी भी नेता ने इसका जवाब देना उचित नहीं समझा।

ये भी पढ़ें...गठबंधन के बिना बीजेपी का मुकाबला करना आसान नहीं: संजय सिंह

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story