Top

चुनाव बाद देख लेने की धमकी देने वाले टीएमसी विधायक 'हमीदुल' की मुश्किलें बढ़ीं

हमीदुल ने पार्टी बदलने वाले लोगों को चुनाव के बाद देख लेने की धमकी भी दी थी। उन्होंने कहा था, 'हमारे पूर्वजों ने कहा था कि जिसका नमक खाते हैं, उसकी नमकहरामी नहीं करते।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 4 March 2021 1:03 PM GMT

चुनाव बाद देख लेने की धमकी देने वाले टीएमसी विधायक हमीदुल की मुश्किलें बढ़ीं
X
शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि हम ममता दीदी की जबरदस्त सफलता की कामना करते हैं क्योंकि हमारा मानना है कि वह बंगाल की असली शेरनी हैं।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कोलकाता: मतदाताओं को खुलेआम धमकी देने के मामले टीएमसी विधायक हमीदुल रहमान की मुश्किलें बढ़ गई हैं। भाजपा के प्रतिनिधिमंडल ने नई दिल्ली में निर्वाचन आयोग के दफ्तर पहुंचकर इस मामले में उनके खिलाफ शिकायत की है। साथ ही कार्रवाई की भी मांग की है।

बता दें कि टीएमसी विधायक हमीदुल रहमान ने 2 मार्च को बयान दिया था, जिसे लेकर काफी विवाद हुआ था। उन्होंने एक रैली को संबोधित करते हुए कहा था, 'हमारे पूर्वज कहते हैं कि जिसका नमक खाते हैं। उसकी नमकहरामी नहीं करते।'

बंगाल में अब शिव बनाम राम! ममता का हिदुत्व कार्ड, शिवरात्रि के दिन करेंगी ये काम

BJP-TMC चुनाव बाद देख लेने की धमकी देने वाले टीएमसी विधायक 'हमीदुल' की मुश्किलें बढ़ीं(फोटो:सोशल मीडिया)

चुनाव के बाद उन लोगों से मिलेंगे, जिन्होंने हमें धोखा दिया: हमीदुल

हमीदुल ने पार्टी बदलने वाले लोगों को चुनाव के बाद देख लेने की धमकी भी दी थी।

उन्होंने कहा था, 'हमारे पूर्वजों ने कहा था कि जिसका नमक खाते हैं, उसकी नमकहरामी नहीं करते।

चुनाव के बाद हम उन लोगों से मिलेंगे, जिन्होंने हमें धोखा दिया है।

बेईमान लोगों के साथ खेलो होबे। हम सभी लोग दीदी को अपना सीएम एक बार फिर से देखना चाहते हैं।

उनका ये बयान सोशल मीडिया में भी जमकर वायरल हुआ था।

बीजेपी ने हमीदुल रहमान के बयान को लेकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधा था। साथ ही मुख्यमंत्री से इस मामले में हमीदुल के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थीं।

बंगाल में विस्फोट! टीएमसी विधायक पर हमला, गाड़ी में तोड़फोड़, पार्टी में हड़कंप

elections बंगाल चुनाव(फोटो:सोशल मीडिया)

बंगाल में आठ चरणों में चुनाव

बंगाल में 27 मार्च से 29 अप्रैल के बीच आठ चरणों में चुनाव होंगे।

वहीं, असम में 27 मार्च से छह अप्रैल के बीच तीन चरणों में चुनाव होने हैं।

पुडुचेरी, केरल और तमिलनाडु में एक ही चरण में छह अप्रैल को चुनाव होंगे। पांचों राज्यों के परिणाम दो मई को आएंगे।

दिलीप घोष ने कहा कि हमें अपनी जिला इकाइयों से पहले दो चरणों के लिए 120-140 नाम मिले हैं।

इसके अलावा सैकड़ों अन्य नाम हैं।

हमने प्रत्येक सीट के लिए 20-25 नाम रख लिए और उनमें से प्रति सीट लगभग 4-5 नामों को शॉर्टलिस्ट किया है। कुछ नाम हटाए जाएंगे और उसके बाद बचे नामों पर अंतिम फैसला पार्टी नेतृत्व लेगी।

बंगाल की जंग में अब हिंदुत्व का उभार, योगी के जरिए ध्रुवीकरण में जुटी भाजपा

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story