×

BJP संगठन मंत्री का फर्जी अश्लील वीडियो वायरल करना पड़ा भारी, पत्रकार को जेल

sudhanshu

sudhanshuBy sudhanshu

Published on 15 Oct 2018 2:07 PM GMT

BJP संगठन मंत्री का फर्जी अश्लील वीडियो वायरल करना पड़ा भारी, पत्रकार को जेल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

वाराणसी: काशी और गोरखपुर प्रांत के संगठन मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता रत्नाकर का फर्जी वीडियो वायरल करना एक कथित पत्रकार को भारी पड़ गया। बीजेपी के स्थानीय नेताओं की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी पत्रकार के खिलाफ भेलुपूर थाने में मुकदमा दर्ज करते हुए उसे जेल भेज दिया।

वीडियो वायरल होने के बाद मचा था हड़कंप

पिछले दो दिनों से वरिष्ठ नेता रत्नाकर का एक वीडियो शहर में तेजी से वायरल हो रहा था। इस वीडियो में रत्नानकर को एक महिला के साथ आपत्तिजनक अवस्था में दिखाया गया था। वीडियो के वायरल होते ही हड़कंप मच गया। मामला चूंकि सत्ताधारी पार्टी के वरिष्ठ नेता से जुड़ा था लिहाजा सरकारी मशीनरी भी फास्ट हो गई। वीडियो की पड़ताल के लिए आईटी के बड़ेब-बड़े दिग्गजों को लगाया गया। इस बीच सोमवार को भेलूपुर पुलिस ने नितिन राय नाम के एक पत्रकार को गिरफ्तार किया। आरोप है कि नितिन ने ही वीडियो को एडिट कर उसे वायरल किया। भेलूपुर पुलिस ने आरोप शख्स के खिलाफ धारा 500, 120 बी, 67 आईटी एक्ट व धारा 6 का दोषी पाते हुये मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस के हाथ लगा ओरिजनल वीडियो

वहीं इस संबंध में भारतीय जनता पार्टी काशी क्षेत्र के महामंत्री अशोक चौरसिया ने कहा कि गोरखपुर क्षेत्र के संगठन महामंत्री रत्नाकर जी के बारे में षडयंत्र के तहत एक विडियो और फोटो मिडिया और सोशल मीडिया पर दो तीन दिनों से चलाया जा रहा है जो कि पूरी तरह से फर्जी और निराधार है तथा कट पेस्ट करके बनाया गया है। वह 19 मिनट का ओरिजनल विडियो भी मिल गया है जिससे छेड़छाड़ करके तथाकथित विडियो और फोटो बनाया गया है जिसका रत्नाकर जी से कोई सम्बंध नही है। यह केवल रत्नाकर जी की छवि को खराब करने का प्रयास नहीं है बल्कि पूरे भाजपा की छवि को क्षतिग्रस्त करने और लाखों कार्यकर्ताओं का मनोबल तोड़ने का दुष्चक्र है।

sudhanshu

sudhanshu

Next Story