मचेगा सियासी बवाल: इस मुद्दे पर भाजपा ने आप पर साधा निशाना

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने कांग्रेस और आम आदमी पार्टी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने सिख दंगों को लेकर कहा कि दोषियों पर कांग्रेस ने कोई कार्रवाई..

Published by Deepak Raj Published: January 16, 2020 | 5:42 pm
Modified: January 16, 2020 | 5:54 pm

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने कांग्रेस और आम आदमी पार्टी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने सिख दंगों को लेकर कहा कि दोषियों पर कांग्रेस ने कोई कार्रवाई नहीं की बल्कि दोषियों को संरक्षण देने का काम किया। वहीं निर्भया के दोषियों को फांसी दिए जाने में हो रही देरी को लेकर आप सरकार पर हमला बोला।

केंद्रीय मंत्री ने  आप पर साधा निशाना

केंद्रीय मंत्री ने आरोप लगाया कि देश को झकझोरने वाले निर्भया केस के दोषी आज तक फांसी पर नहीं लटके, इसका एकमात्र कारण दिल्ली की आम आदमी पार्टी की सरकार की लापरवाही है। उच्चतम न्यायालय ने उनकी अपील 2017 में ही खारिज कर दी थी और उन्हें फांसी की सजा दी थी।

उन्होंने कहा कि लेकिन एक प्रक्रिया के तहत तिहाड़ जेल प्रशासन दोषियों को एक नोटिस देता है कि अब आपको कोई दया याचिका या अपील दाखिल करनी है तो कर लो, अन्यथा फांसी हो जाएगी। लेकिन उन्हें ये नोटिस 2.5 साल तक दी ही नहीं गयी, ये देरी उन अपराधियों से दिल्ली सरकार की सहानुभूति को दर्शाती है।

सिख नरसंहार के दोषियों पर कांग्रेस ने कार्रवाई नहीं की

जावडेकर ने कहा कि आज जस्टिस ढींगरा कमीशन ने अपनी रिपोर्ट दी है और रिपोर्ट में सच्चाई सामने आयी है। उन्होंने साफ किया है कि 1984 के सिख नरसंहार के दोषियों पर कांग्रेस ने कोई कार्रवाई नहीं की बल्कि दोषियों को संरक्षण देने का काम किया। इस रिपोर्ट में दो-तीन बातें सामने आईं हैं।

उन्होंने ने कहा कि रिपोर्ट में मुख्य निष्कर्ष ये है कि इस नरसंहार की सही जांच हुई ही नहीं। जिसमें करीब तीन हजार सिखों को जिंदा जलाया गया, घरों को लूटा गया, जलाया गया और तब के प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने इसका समर्थन किया था।

 

जावडेकर ने कहा कि रिपोर्ट में एक उदाहरण देते हुए बताया गया कि सुल्तानपुर में दंगों से संबंधित करीब 500 घटनाएं हुईं। इसमें सैकड़ों लोग मारे गए, घर जलाए गए, लूटपाट हुई।

लेकिन 500 घटनाओं की सिर्फ एक ही एफआईआर हुई और एक एफआईआर की जांच के लिए सिर्फ एक ही कर्मचारी लगाया गया। उस समय के प्रधानमंत्री राजीव गांधी जी ने हिंसा का समर्थन करते हुए कहा था कि जब कोई बड़ा पेड़ गिरता है तो धरती हिलती ही है

जावडेकर ने कहा कि तीन हजार सिखों का कत्ले आम हुआ और उसके बाद कांग्रेस का ये रवैया। इससे केवल ये साफ पता चलता है कि कांग्रेस का हाथ कत्ल करने वालों के साथ है।

फांसी पर स्टे के बारे में बोली निर्भया के मां

पटियाला हाउस कोर्ट ने निर्भया के दोषियों की फांसी पर स्टे लगा दिया है। कोर्ट के फैसले के बाद निर्भया की मां आशा देवी नाराज हैं। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार नहीं चाहती है कि दोषियों को फांसी हो।

आशा देवी ने कहा, ‘फांसी में देरी के लिए दिल्ली सरकार जिम्मेदार है। दोषियों को फायदा क्यों मिल रहा है। मेरी बेटी की हत्या हुए सात साल हो गए, लेकिन आज भी मैं न्याय के लिए लड़ रही हूं। यह सरकार की गलती है। मैं एक कोर्ट से दूसरे कोर्ट जा रही हूं बस। मुझे क्यों सजा दी जा रही है।’