×

साध्वी का दिग्विजय पर पलटवार, गोडसे को बताया था पहला आतंकी

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 13 Jan 2021 8:43 AM GMT

साध्वी का दिग्विजय पर पलटवार, गोडसे को बताया था पहला आतंकी
X
साध्वी प्रज्ञा का दिग्विजय पर पलटवार, गोडसे को बताया था पहला आतंकी
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

भोपाल: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह (Digvijaya Singh) के नाथूराम गोडसे वाले बयान पर सियासत गरमाती जा रही है। अब भोपाल से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने दिग्विजय सिंह के बयान पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस हमेशा से देशभक्तों के साथ दुर्व्यवहार करती रही है। भगवा को ही भगवा आतंक (Bhagwa aatank) बता दिया, इससे बुरा और क्या हो सकता है।

क्या था दिग्विजय सिंह का बयान?

आपको बता दें कि दिग्विजय सिंह ने गांधीजी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को पहला आतंकवादी करार दिया था। इसके बाद से ही सियासत गरमाती जा रही है। बताते चलें कि बीजेपी सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर (Pragya Singh Thakur) लोकसभा चुनाव के दौरान गोडसे को देशभक्त करार दिया था। उनके इस बयान पर काफी बवाल हुआ था। जिसके बाद भाजपा को सफाई देनी पड़ी थी। साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इस बयान की निंदा की थी।

यह भी पढ़ें: पूर्वांचल में मुस्लिम वोटों की जंग, अखिलेश-ओवैसी के बयानों से सियासी माहौल गरमाया

ग्वालियर जिला प्रशासन के दखल के बाद बंद हुई ज्ञानशाल

वहीं दूसरी ओर ग्वालियर जिला प्रशासन के दखल के बाद हिंदू महासभा ने जिले में नाथूराम गोडसे की ज्ञानशाला को मंगलवार को बंद कर दिया है। बता दें कि इस ज्ञानशाला की शुरुआत हिंदू महासभा ने रविवार यानी 10 जनवरी को ग्वालियर में दौलतगंज स्थित अपने दफ्तर में की थी। साथ ही नाथूराम गोडसे की पूजा भी की थी। जिसके बाद सियासत गरमा गई और सूबे की शिवराज सरकार पर हमला साधा जाने लगा।

यह भी पढ़ें: सुवेंदु का बीजेपी में जाना टीएमसी को नहीं आया रस, पिता की छिनी चेयरमैन की कुर्सी

इलाके में लागू हुई धार 144, शांति भंग ना करने के निर्देश

जिसके बाद ग्वालियर जिला प्रशासन ने मामले में दखल दिया और हिंदू महासभा के पदाधिकारियों से बात की और उस इलाके में धारा 144 लागू कर दी। साथ ही शांति भंग ना करने का निर्देश दिया है। प्रशासन से बात करने के बाद हिंदू महासभा ने गोडसे की ज्ञानशाला को बंद कर दिया।

यह भी पढ़ें: हंगामे की भेंट चढ़ गई कांग्रेस की बैठक, प्रभारी के सामने दनादन चलीं कुर्सियां

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story