Top

नारें को बूथों तक पहुंचाएगी BJP, दीवारों पर दिखेगा कमल

लोकसभा चुनाव 2019 के पहले बीजेपी ने अपना नया स्लोगन जारी किया है। '2019 में फिर एक बार मोदी सरकार ' ये स्लोगन उत्तर प्रदेश के 1 लाख 62 हजार बूथों की दीवारों पर लिखा जायेगा और यह स्लोगन भगवा रंग से लिखा जायेगा। लोकसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी प्रदेश में अभियान चलाकर दीवारों पर स्लोगन का कार्यक्रम चलाने जा रही है।

Anoop Ojha

Anoop OjhaBy Anoop Ojha

Published on 28 Nov 2018 2:35 PM GMT

नारें को बूथों तक पहुंचाएगी BJP, दीवारों पर दिखेगा कमल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कानपुर: लोकसभा चुनाव 2019 के पहले बीजेपी ने अपना नया स्लोगन जारी किया है। '2019 में फिर एक बार मोदी सरकार ' ये स्लोगन उत्तर प्रदेश के 1 लाख 62 हजार बूथों की दीवारों पर लिखा जायेगा और यह स्लोगन भगवा रंग से लिखा जायेगा। लोकसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी प्रदेश में अभियान चलाकर दीवारों पर स्लोगन का कार्यक्रम चलाने जा रही है। इसी प्रकार बीजेपी ने 2014 के लोकसभा चुनाव में भी स्लोगन दिया था। पूरे देश में वाल प्रिंटिंग करा कर 'सुशासन संकल्प ,बीजेपी विकल्प ' का नारा दिया था। बीजेपी ने 2019 के लोकसभा चुनाव की वाल प्रिंटिंग के लिए मानक भी जारी किया है।

यह भी पढ़ें ......बीजेपी के कमल सन्देश यात्रा के जवाब में सपा ने निकाली सदभावना रैली

भारतीय जनता पार्टी 2019 के लोकसभा चुनाव का सबसे अहम् हिस्से की शुरुआत करने जा रही है। इसके लिए भारतीय जनता पार्टी ने पूरी रणनीति तैयार कर ली है। प्रदेश भर की एक लाख 62 हजार बूथों पर मानक के हिसाब से स्लोगन और कमल के फूल का निशान बनाया जायेगा। '2019 में फिर एक बार मोदी सरकार' इस स्लोगन को प्रत्तेक बूथ की 5 दीवारों को चुना जायेगा। चुनी हुयी दिवारी पर इस स्लोगन को लिखा जायेगा।

यह भी पढ़ें ......राजस्थान चुनाव: BJP ने जारी किया मेनिफेस्टो, घोषणा पत्र में किए ये-ये वादे

जानकारी के मुताबिक बूथ को इस स्लोगन की जिम्मेदारी दी जाएगी। बूथ प्रभारी अपने बूथ की पांच ऐसी दीवारों को चुना जायेगा जहा पर सभी आने जाने राहगीरों और वोटरों की नजर पड़े। दीवारों पर वाल प्रिंटिंग के लिए एक मानक बनाया गया है।3 फिट की वाल प्रिंटिंग में एक फिट का कमल के निशान का निशान सिम्बल बनाया जायेगा। कमल का निशान काले रंग का बनाया जायेगा ,कमल का निशान इस लिए काले रंग का बनाया जायेगा ताकि वोटरों को यह निशान दूर से ही दिखाई दे। इसके साथ ही भगवा रंग से स्लोगन को लिखा जायेगा। पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव के बाद इस वाल प्रिंटिंग पर स्लोगा लिखवाने का काम शुरू कर दिया जायेगा।

ईवीएम् में भी कमल का निशान काले रंग का रखने का प्रस्ताव रखा गया। इसके पीछे वजह यह मानी जा रही है कि बीजेपी का वोटर जब मताधिकार का प्रयोग करे तो वोटर को यह कमल का सिम्बल आसानी से दिखाई दे जाये।

भारत रत्न पूर्व प्रधानमन्त्री अटल बिहारी बाजपेयी का 16 अगस्त 2018 को निधन हो गया था। बीजेपी 2019 का लोकसभा चुनाव की जीत अटल बिहारी बाजपेयी को समर्पित करना चाहती है। बीजेपी उनके लिए 'जन जन का संकल्प अटल, फिर देश मे खिले कमल' ये स्लोगन लिखवाने का काम करेगी।

यह भी पढ़ें ......BJP अपनी विफलता छुपाने के लिए उठा रही है अयोध्या का मुद्दा- अखिलेश यादव

बीजेपी के नेता ने अपना नाम नहीं बताये जाने की शर्त पर बताया कि भारतीय जनता पार्टी वाल प्रिंटिंग अभियान इसी तरह से 2014 के लोकसभा चुनाव में भी किया था। उसी प्रकार 2019 के लोकसभा चुनाव की भी तैयारी की जा रही है। 2014 के लोकसभा चुनाव में प्रत्तेक बूथ की पांच दीवारों में 'सुशासन संकल्प ,बीजेपी विकल्प ' का स्लोगन लिखवाया गया था। 'जन जन का संकल्प अटल, फिर देश मे खिले कमल' का भी स्लोगन लिखा जायेगा।

Anoop Ojha

Anoop Ojha

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story