Top

क्या स्मृति ईरानी राहुल से डर गई, फिर क्यों फेक वीडियो को किया Retweet!

Manali Rastogi

Manali RastogiBy Manali Rastogi

Published on 14 Dec 2018 3:30 AM GMT

क्या स्मृति ईरानी राहुल से डर गई, फिर क्यों फेक वीडियो को किया Retweet!
X
क्या स्मृति ईरानी राहुल से डर गई, फिर क्यों फेक वीडियो को क्यों किया Retweet!
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

अमेठी: बीजेपी शासित राज्यों में कांग्रेस की धमाके दार इंट्री के बाद सोशल मीडिया पर जब कर कमेंट्स देखने को मिले। इस बीच फेसबुक, वाट्स एप और ट्विटर जैसी सोशल साइटों पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का एक वीडियो भी वायरल हुआ। जिसे एडिट कर राहुल द्वारा किसानों की कर्ज़माफी के मुद्दे पर यूटर्न मारने की बात कही जा रही है।

यह भी पढ़ें: BIRTH ANNI SPECIAL:राजकपूर के सफेद साड़ी प्रेम ने तोड़ा था इस एक्टर का दिल

हालांकि उक्त वीडियो फेक है। लेकिन काबिले गौर बात ये के केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने भी उसे अपने ट्विटर पेज पर रिट्वीट किया है। ऐसे में सवाल बड़ा है के क्या स्मृति ईरानी राहुल गांधी से डर गई हैं?

यह भी पढ़ें: राफेल डील को लेकर आज आएगा सुप्रीम कोर्ट का फैसला

गौरतलब हो कि मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की जीत के बाद से सोशल मीडिया पर राहुल गांधी का एक वीडियो शेयर किया जा रहा है, जो फेक है। जिसमें इस बात को साबित करने की कोशिश हुई है कि राहुल गांधी चुनाव में जीत के बाद किसानों का कर्ज़ माफ़ करने वाले अपने वादे से पलट गए।

यह भी पढ़ें: विनाश का कारण बनती है भगवान की इन मूर्तियों का दर्शन,जानिए कैसे आती है अड़चन

काबिले गौर बात ये है कि वायरल वीडियो को राहुल गांधी के दो अलग-अलग क्लिप्स को मिक्स कर बनाया गया है। पहली क्लिप राहुल गांधी की चुनावी रैली की है, जिसमें उन्होंने भाषण देते हुए सरकार बनने के बाद 10 दिनों के अंदर किसानों का कर्ज़ माफ करनेका वादा किया था।

वहीं दूसरी क्लिप राहुलगांधी की प्रेस कांफ्रेंस की है, जो उन्होंने विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद की थी। दूसरी क्लिप में राहुल गांधी यह कहते हुए सुनाई दे रहे हैं कि, कर्ज़ माफ़ी सोल्युशन नहीं है। इस क्लिप में राहुल गांधी के सिर्फ इसी बयान को चलाकी से उठाया गया है, जिससे यह साबित किया जा सके कि ये कांग्रेस का यू टर्न है।

जबकि राहुल गांधी की प्रेस कॉन्फ्रेंस को देखा जाए तो उन्होंने कहीं भी ऐसा नहीं कहा कि वह किसानों का कर्ज़ माफ नहीं करेंगे। उन्होंने अपने बयान में कहा था, क़र्ज़ माफ़ी एक सपोर्टिंग स्टेप है। क़र्ज़ माफ़ी सोल्युशन नहीं है। सोल्युशन ज़्यादा काम्प्लेक्स होगा।

उन्होंने कहा था, सोल्युशन किसानों को सपोर्ट करने का होगा, इंफ़्रास्ट्रक्चर बनाने का होगा, टेक्नोलॉजी देने का होगा और फ्रैंकली बोलूं तो सोल्युशन आसान नहीं है, सोल्युशन चल्लेंजिंग चीज़ है और हम उसको करके दिखाएंगे। किसानों के साथ हमें काम करना पड़ेगा, देश की जनता के साथ काम करना पड़ेगा, और वो हम करेंगे।

यहां देखें वीडियो



Manali Rastogi

Manali Rastogi

Next Story