Top

बीजेपी की जनसुनवाई : सपा सरकार में हुए भ्रष्टाचार की भी शिकायत

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 3 Jun 2017 4:24 PM GMT

बीजेपी की जनसुनवाई : सपा सरकार में हुए भ्रष्टाचार की भी शिकायत
X
तीन तलक पर स्वामी प्रसाद मौर्या बोले- हवस मिटाने के लिए मुस्लिम बदलते हैं बीवियां
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी प्रदेश मुख्यालय पर शनिवार को कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने जनसुनवाई की। इसमें 127 लोगों की शिकायतें मौर्य के सामने आई, जिन पर उन्होंने आवश्यक कार्रवाई के निर्देश दिए। जनसुनवाई केंद्र में बीती समाजवादी पार्टी (सपा) सरकार के कार्यकाल में नौकरियों को लेकर हुए भ्रष्टाचार की शिकायतें भी आई। मौर्य ने इन शिकायतों को संबधित विभागों को जांच के लिए भेज दिया।

ये भी देखें : कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही का दावा, यूपी में हुई सपा सरकार से 4 गुना ज्यादा गेहूं खरीद

जनसुनवाई के बाद स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा, "मोदी सरकार की तीन साल की उपलब्धियां बेमिसाल हैं। कृषि क्षेत्र में हम देखें तो मंडी सुधार प्रक्रिया में तेजी लाने के लिए ई-मंडी पायलट प्रोजेक्ट शुरू, जिसमें आठ राज्यों की 21 मंडियां शामिल हैं। इससे एक ही राज्य की अलग-अलग मंडियों के अलग-अलग नियम एवं लाइसेंस में एकरूपता लाने में सफलता मिली है। अब तक 12 राज्यों की 365 मंडियों से प्रस्ताव मिले। नई खाद नीति के तहत घरेलू उत्पादन और ऊर्जा दक्षता बढ़ाना और खाद उत्पादन में देश को आत्मनिर्भर बनाना। कृषि लागत मूल्य में हो रही वृद्धि में कटौती और उपज का उचित मूल्य दिलाना। 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करना।"

भाजपा मीडिया प्रभारी ने बताया कि रविवार को जनसमस्याओं को निस्तारित करने के राज्यमंत्री मोहसिन रजा सुबह 11 बजे से दोपहर एक बजे तक उपस्थित रहेंगे।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story