Top

मायावती का ऐलान, बसपा सत्ता में आई तो लैपटॉप-टैबलेट नहीं, नकद मिलेगी राशि

विधानसभा चुनाव अभियान की शुरुआत करते हुए बसपा प्रमुख मायावती ने कहा कि बसपा सत्ता में आने के बाद टेबलैट या लैपटॉप नहीं देगी बल्कि मतदाताओं को नकद रकम देगी। उन्होंनें चुनाव के बाद पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने का दावा किया और कहा कि सपा, कांग्रेस और बीजेपी की हालत खराब है।

zafar

zafarBy zafar

Published on 9 Oct 2016 7:54 AM GMT

मायावती का ऐलान, बसपा सत्ता में आई तो लैपटॉप-टैबलेट नहीं, नकद मिलेगी राशि
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: यूपी के सीएम अखिलेश यादव ने आने वाले विधानसभा चुनाव में यदि मतदाताओं को स्मार्ट फोन देने का वायदा किया है तो बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती ने नकद रकम देने का लालच दिया है।

लैपटॉप बनाम नकद

-बसपा के संस्थापक कांशीराम की 10वीं पुण्यतिथि पर विधानसभा चुनाव अभियान की शुरुआत करते हुए बसपा प्रमुख मायावती ने कहा कि बसपा सत्ता में आने के बाद टैबलैट या लैपटॉप नहीं देगी बल्कि मतदाताओं को नकद रकम देगी।

-उन्होंने चुनाव के बाद पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने का दावा किया और कहा कि सपा, कांग्रेस और बीजेपी की हालत खराब है।

-उन्होंने दो दिन पहले बीजेपी महिला मोर्चा की अध्यक्ष बनाई गई स्वाति सिंह पर भी निशाना साधा और कहा कि वो खुद महिला का उत्पीड़न करती हैं।

निशाने पर स्वाति

-स्वाति के पति दयाशंकर ने मायावती को अपशब्द कहे थे और इसके लिए उसे जेल जाना पड़ा था। बदले में बसपा कार्यकर्ताओं ने भी दयाशंकर के परिवार के बारे में अपशब्द कहे थे। जिसके विरोध में स्वाति ने अदालत का दरवाजा खटखटाया था।

-उन्होंने कहा कि स्वाति ने अपने भाई को उसकी पत्नी से अलग किया।

-बसपा प्रमुख ने कहा कि जो महिला खुद महिला का उत्पीड़न करती है वो महिलाओं के सम्मान की बात कैसे कर सकती है।

zafar

zafar

Next Story