Top

सवर्ण आरक्षण के मामले में माया मोदी के साथ लेकिन कहा- चुनावी स्टंट

बसपा अध्यक्ष मायावती ने नरेंद्र मोदी सरकार के गरीब सवर्णों को दस प्रतिशत आरक्षण दिए जाने के निर्णय का स्वागत किया लेकिन इसके साथ ही उन्होंने कहा, लोकसभा चुनाव से पहले लिया गया ये निर्णय हमें सही नीयत से लिया गया नहीं लगता है। चुनावी स्टंट लगता है, राजनीतिक छलावा लगता है।

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 8 Jan 2019 5:57 AM GMT

सवर्ण आरक्षण के मामले में माया मोदी के साथ लेकिन कहा- चुनावी स्टंट
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ : बसपा अध्यक्ष मायावती ने नरेंद्र मोदी सरकार के गरीब सवर्णों को दस प्रतिशत आरक्षण दिए जाने के निर्णय का स्वागत किया लेकिन इसके साथ ही उन्होंने कहा, लोकसभा चुनाव से पहले लिया गया ये निर्णय हमें सही नीयत से लिया गया नहीं लगता है। चुनावी स्टंट लगता है, राजनीतिक छलावा लगता है।

ये भी देखें : ‘सवर्ण’ आरक्षण का जश्न मना लिया हो तो, आरक्षण की पोथी भी बांच लीजिए

माया ने कहा, अच्छा होता अगर भाजपा अपना कार्यकाल खत्म होने से ठीक पहले नहीं बल्कि और पहले ये फैसला ले लेती। देश में अब एससी-एसटी और ओबीसी वर्गों को मिलने वाले आरक्षण की करीब 50 प्रतिशत सीमा की सही नीयत के साथ भी समीक्षा किए जाने की आवश्यकता है।

ये भी देखें : संसद में सवर्ण आरक्षण बिल पर आज ऐतिहासिक दिन, सदन में हंगामे के आसार

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story