Top

बसपा सुप्रीमो मायावती ने किया मोदी सरकार पर हमला

मायावती ने ट्वीट कर मोदी सरकार पर हमला बोला और तंज कसते हुए कहा, "राफेल सौदे की गोपनीय फाइल यदि चोरी हो गई तो गम नहीं, किन्तु देश में रोजगार की घटती दर और बढ़ती बेरोजगारी एवं गरीबी, श्रमिकों की दुर्दशा, किसानों की बदहाली आदि के सरकारी आंकड़े पब्लिक (सार्वजनिक) नहीं होने चाहिये।"

Roshni Khan

Roshni KhanBy Roshni Khan

Published on 22 March 2019 7:57 AM GMT

बसपा सुप्रीमो मायावती ने किया मोदी सरकार पर हमला
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार बढ़ती बेरोजगारी एवं गरीबी, श्रमिकों की दुर्दशा और किसानों की बदहाली संबंधी सरकारी आंकड़े वोट की खातिर छिपाये हुए है।

ये भी देखें:बीजेपी में शामिल हुए क्रिकेटर गौतम गंभीर, लड़ सकते हैं लोकसभा चुनाव

मायावती ने ट्वीट कर मोदी सरकार पर हमला बोला और तंज कसते हुए कहा, "राफेल सौदे की गोपनीय फाइल यदि चोरी हो गई तो गम नहीं, किन्तु देश में रोजगार की घटती दर और बढ़ती बेरोजगारी एवं गरीबी, श्रमिकों की दुर्दशा, किसानों की बदहाली आदि के सरकारी आंकड़े पब्लिक (सार्वजनिक) नहीं होने चाहिये।"

उन्होंने कहा, "वोट या इमेज (छवि) की खातिर उन्हें छिपाए रखना है। क्या देश को ऐसा ही चौकीदार चाहिए?"

ये भी देखें:सड़क हादसे में मोटर साइकिल दो युवकों की मौत

बसपा सुप्रीमो ने कहा कि भाजपा के मंत्री और नेतागण पीएम मोदी की देखादेखी ’चौकीदार’ बन गये हैं, लेकिन उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री (योगी आदित्यनाथ) जैसे लोग बड़ी दुविधा में हैं कि क्या करें? जनसेवक/योगी रहें या अपने को चौकीदार घोषित करें।

उन्होंने कहा, "बीजेपी वाले चाहे जो फैशन करें, बस संविधान-कानून के रखवाले बनकर काम करें, जनता बस यही चाहती है।"

(भाषा)

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story