Top

महागठबंधन पर छलका अखिलेश का दर्द, कहा-अगर मेरे हाथ में होता तो अब तक हो जाता

By

Published on 14 Dec 2016 7:19 AM GMT

महागठबंधन पर छलका अखिलेश का दर्द, कहा-अगर मेरे हाथ में होता तो अब तक हो जाता
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: सीएम अखिलेश यादव का अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में गठबंधन को लेकर दर्द एक बार फिर छलक आया। अपने सरकारी आवास 5 कालीदास मार्ग से नोएडा के लोकार्पण समारोह में उन्होंने विधानसभा चुनाव को लेकर संवाददाताओं के सवालों के जवाब दिए । उन्होंने कहा कि गठबंधन का फैसला मैं नहीं ले सकता। ये समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और नेताजी मुलायम सिंह यादव ही ले सकते हैं।

यदि मेरे हाथ में होता तो ये अब तक हो गया होता। बिना गठबंधन के ही सपा चुनाव के बाद सरकार बनाएगी लेकिन यदि कांग्रेस के साथ गठबंधन होता तो कम से कम 300 सीटें आतीं। कांग्रेस के बहुत से नेता हमारे सम्पर्क में हैं। दोनों की विचारधारा भी मिलती है। सपा को विश्वास है कि चुनाव के बाद सरकार उसकी ही बनेगी।

उन्होंने कहा कि बहुजन समाज पार्टी तो चुनाव के रेस में है ही नहीं। अपने कार्यकाल में बसपा ने तो लूट मचा रखी थी। मायावती का नाम लिए बिना कहा कि उनके कार्यकाल में लूट का साम्राज्य था।

उन्होंने केंद्र की नरेंद्र मोदी की सरकार को जनता को परेशान करने वाली सरकार बताया। सीएम ने कहा कि नोटबंदी को लेकर केंद्र सरकार ने जनता को बैंकों की लाइन में खड़ा कर दिया है। नोटबंदी को एक महीने से ज्यादा का समय हो गया लेकिन बैंकों में लाईन कम हो जाने के बजाए बढ़ रही हैं। जनता परेशान करने वाली सरकार को कभी माफ नहीं करती। जनता बीजेपी सरकार को भी माफ नहीं करेगी।

Next Story