Top

पीएम मोदी के एजेंडे में किसान है सर्वोच्‍च प्राथमिकता: सीएम योगी आदित्‍यनाथ

sudhanshu

sudhanshuBy sudhanshu

Published on 2 Oct 2018 12:46 PM GMT

पीएम मोदी के एजेंडे में किसान है सर्वोच्‍च प्राथमिकता: सीएम योगी आदित्‍यनाथ
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को महात्‍मा गांधी की 150 वीं जयंती की सबको बधाई दी। इस मौके पर उनहोंने कहा कि साढ़े 4 साल से पीएम मोदी की सरकार काम कर रही है। आजादी के बाद पहली बार किसी सरकार के एजेंडे में किसान है। पीएम मोदी ने किसानों की समस्याओं को खत्म करने का काम किया है। किसान के लिए बीज व खाद की उपलब्धता के साथ साथ काला बाज़ारी पर अंकुश लगाने का काम भी सरकार ने किया है। किसान का उत्‍पादन बढाना सरकार की प्राथमिकता रही है।

जब हमारी सरकार आई थी तब गन्ना किसानों का बहुत धन बकाया था। आज केंद्र हो या प्रदेश की बीजेपी सरकार हो, सब किसानों के लिए काम कर रहे हैं। किसानों का कर्ज माफ करने का भी काम हमने किया। जिससे किसानों को राहत मिली है।

धान केंद्रो पर कर रहे व्‍यापक काम

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि धान केंद्रों पर भी हम व्‍यापक काम कर रहे हैं। जब हम आये थे, तब गन्ना किसानों का बड़ा मूल्य बकाया था। उस पर राहत देने के लिए हमने काम किया। जब तक किसानों के खेत में गन्ना खड़ा रहेगा तब तक मीलों को चलाने का काम किया। हम विपरीत स्थितियों में भी 26 हज़ार करोड़ का मूल्य दे चुके हैं। 63 मीलों ने 75% गन्ने का भुगतान कर दिया है और मीलों के लिए भी काम चल रहा है। सॉफ्ट लोन की भी व्यवस्था हमने की है।

गन्‍ना भुगतान के लिए 30 नवंबर तक डेडलाइन

सीएम योगी ने कहा कि गन्ना किसानों के भुगतान के लिए 30 नवंबर तक का समय हमने दिया है। पहली बार ऐसा प्रदेश में हुआ है। आलू के लिए भी हमने बड़े कदम उठाए हैं। बाढ़ गंगा परियोजना का काम भी हमने ही 1 साल में पूरा करने का काम किया है। इसको हम और आगे भी बढ़ायेंगे।

प्रदेश के अंदर किसानों को राहत देने के लिए मंडी की अच्छी व्यवस्था और धान क्रय के लिए भी बड़े स्तर पर काम हो रहा है।

किसानों के लिए कभी इतना काम नहीं हुआ है। किसानों को पहले लाठी मारी जाती थी। आज वही लोग घडि़याली आंसू बहाने का काम कर रहे हैं।

किसान आंदोलन की मांगों पर कर रहे काम

सीएम योगी ने कहा है कि किसान आंदोलन में माँगों पर सरकार पहले से ही काम कर रही है। जहाँ आवारा पशु की बात के लिए हमने गौशालाओं के लिए काम शुरू कर दिया है। मनरेगा को किसानों के साथ जोड़े जाने का काम पहले से किया जा रहा है।

नेशनल ग्रीन ट्रिब्‍यूनल ने दस साल के पुराने ट्रैक्टर के इस्‍तेमाल के लिए मना किया है। इस पर हमने आश्‍वासन दिया है कि हम एनजीटी या कोर्ट में किसानों के पक्ष को रखेंगे।

किसान हमारी प्राथमिकता में है। उनके विकास के लिए सरकार लागतार काम करेगी।

दिल्ली जाने का हक सबका है। पर कानून हाथ में नही लेना चाहिये। एक डेलिगेशन दिल्ली में मुलाकात कर रहा है, पर कानून हाथ में नहीं लेना चाहिए। ये नेता जो किसान के साथ आज खड़े हैं। ये कभी किसानी के बारे में कुछ जानते नहीं हैं। ये आलू औऱ गन्ना के बारे में कुछ जानते ही नहीं हैं। इन्होंने कभी खेती की ही नहीं है। ये सिर्फ घडियाली आंसू बहा रहे हैं। कानून हाथ में लेने की छूट किसी को नहीं है।

sudhanshu

sudhanshu

Next Story