Top

UP निकाय चुनाव: BJP का संकल्प पत्र, गौशाला से लेकर स्वच्छता पर जोर

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने उप्र स्थानीय निकाय सामान्य निर्वाचन के लिए रविवार (12 नवंबर) को अपना संकल्प पत्र जारी कर दिया है। सीएम योगी आदित्यनाथ, डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा और केशव प्रसाद मौर्या समेत प्रदेश अध्यक्ष महेन्द्र नाथ पाण्डेय की मौजूदगी में पार्टी मुख्यालय पर 27 सूत्रीय संकल्प पत्र पेश किया गया। 12 पेज के संकल्प पत्र में गौशाला से लेकर स्वच्छता पर विशेष जोर दिया गया है।

priyankajoshi

priyankajoshiBy priyankajoshi

Published on 12 Nov 2017 8:05 AM GMT

UP निकाय चुनाव: BJP का संकल्प पत्र, गौशाला से लेकर स्वच्छता पर जोर
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने उप्र स्थानीय निकाय सामान्य निर्वाचन के लिए रविवार (12 नवंबर) को अपना संकल्प पत्र जारी कर दिया है। सीएम योगी आदित्यनाथ, डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा और केशव प्रसाद मौर्या समेत प्रदेश अध्यक्ष महेन्द्र नाथ पाण्डेय की मौजूदगी में पार्टी मुख्यालय पर 27 सूत्रीय संकल्प पत्र पेश किया गया। 12 पेज के संकल्प पत्र में गौशाला से लेकर स्वच्छता पर विशेष जोर दिया गया है।

प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय ने कहा बीजेपी उद्देश्यपरक काम करती है। लोकसभा चुनाव 2014 में बीजेपी की जीत को पूरी दुनिया ने देखा है। उन्होंने कहा कि पार्टी ने यूपी निकाय चुनाव के लिए 27 सूत्रीय संकल्प पत्र जारी किया है। उन्होंने कहा कि केंद्र और प्रदेश में भाजपा की सरकार है। ऐसे में निकाय बोर्ड भाजपा के प्रतिनिधियों से गठित होती है तो केंद्र से चलने वाली योजना का लाभ सीधा वार्डों तक पहुंचेगा।

यह हैं संकल्प पत्र के 27 बिन्दु

-सफाई को विशेष महत्व

-स्वच्छ नगर, हरित नगर, स्वस्थ नगर

-सघन वृक्षारोपण

-बेहतर सड़कें

-बेहतर पेयजल व्यवस्था

-बेहतर स्ट्रीट लाइट

-नि:शुल्क सामुदायिक शौचालय

-महिलाओं के लिए पिंक टायलेट की व्यवस्था

-व्यक्तिगत शौचालयों के लिए बीस हजार रूपये का अनुदान

-आदर्श नगर पंचायत की व्यवस्था

-ई—टेंडरिंग

-घुमन्तु पशुओं के लिए कांजी हाउस (गौशाला) की व्यवस्था

-पटरी दुकानदारों को प्रभावी संरक्षण

-प्रत्येक घर में नि:शुल्क जल संयोजन

-पारदर्शी एवं उत्तरदायी प्रशासन

-जन शिकायतों का समयबद्ध निस्तारण

-सुदृढ नगर बस सेवा

-मुख्य सार्वजनिक स्थलों पर नि:शुल्क वाईफाई व्यवस्था

-सभी प्रकार के देयों की आनलाइन व्यवस्था

-स्वच्छ वातावरण प्रोत्साहन समिति के माध्यम से स्वच्छ वातावरण बनाना

-प्रधानमंत्री आवास योजना का प्रभावी क्रियान्यवन

-पार्कों का सौन्दर्यीकरण एवं निर्माण

-अन्त्येष्टि स्थलों का सुदृढीकरण

-स्वतंत्रता संग्राम सेनानी व उनके आश्रितों को गृह कर में छूट

-नगरों का स्मार्ट सिटी के रूप में विकास

-वाहन पार्किंग की समुचित व्यवस्था

-नगरों में आडिटोरियम/एक्जीबिशन ग्राउन्ड की व्यवस्था

-श्रेष्ठ कर्मियों को पुरस्कृत करनाविद्युत आपूर्ति के साथ बचत पर भी होगा काम

सीएम योगी आदित्यनाथ ने बताया कि विद्युत आपूर्ति के साथ बचत पर भी काम हो रहा है। बीस लाख से ज्यादा कनेक्शन देने का काम भी इन सात महीनों में किया गया है। इससे विद्युत की चोरी रुकी है। सरकार ने फैसला लिया है कि जितनी भी स्ट्रीट लाइट हैं वो सभी एलइडी होंगी।

जनसेवा हमारा उद्देश्य

प्रदेश अध्यक्ष महेन्द्र नाथ पांडेय ने कहा कि बीजेपी आज संकल्प पत्र के विमोचन के लिए आई है। बीजेपी कोई भी चुनाव उद्देश्य के साथ लड़ती है हमारा उद्देश्य जनसेवा होता है। सत्ता का उपभोग हमारा उद्देश्य नही होता है । हम विधानसभा में भी संकल्प पत्र के साथ उतरे थे आज भी हम उद्देश्य के साथ उतरे है । हमारा उद्देय सिर्फ पार्षद बनाना नही है। घोषणा पत्र में स्वच्छता, पर्यावरण, स्ट्रीट लाइट पर जोर दिया गया है। कांजी हाउस को पुनर्जीवित करने, पशुओं को चारा और जनशिकायतों के निस्तारण की पहल की गई है।

उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों ने पहले हमारे महापौर और पार्षदों को काम नहीं करने दिया। आजम खान का नाम लिए बगैर कहा कि पिछली सरकार के मंत्री ने नगर विकास के विपरीत ही काम किया। चुनाव के बाद हमारे महापौर पार्षद इस 27 सूत्रीय संकल्प पत्र को पूरा करेंगे। प्रदेश से फीडबैक के अनुसार विपक्ष लड़ाई में नही है।

सीएम योगी का बयान

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 653 नगर निकायों में से 652 पर चुनाव प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। पार्टी जनता के प्रति अपनी जवाबदेही दोहराने के लिए संकल्प पत्र प्रस्तुत कर रही है। आठ महानगरों में मेट्रो के डीपीआर और सर्वे का काम चल रहा है। एअर स्ट्रिप से जोड़ते हुए इनको रीजनल कनेक्टिविटी से जोड़ने का काम किया जा रहा है। हम ONE DISTRICT ONE PRODUCT के कॉन्सेप्ट के साथ आगे आ रहे हैं। जैसे—अलीगढ़ का ताला, फिरोजाबाद की चूड़िया मशहूर हैं। इन उद्योगों को प्रमोट करने ​के लिए सभी जिलों में इनके केंद्र स्थापित करने जा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि नगरीय क्षेत्रों में 1.61 लाख आवास उपलब्ध कराया गया है। व्यक्तिगत शौचालय की राशि बढ़ाकर 20 हजार किया गया है। फुटपाथ दुकानदारों के लिए नगर विकास विभाग ने प्रयास शुरू किया है। प्रदेश के सात शहरों का स्मार्ट सिटी में चयन हो चुका है। छह शहरों का चयन प्रक्रिया में है। सात महीनों में 20 लाख से अधिक बिजली कनेक्शन दिया गया। एक सवाल के जवाब में सीएम ने कहा कि हर चुनाव सरकार की कसौटी पर खरे उतरे यह होना चाहिए। विरोधी पहले ही मैदान छोड़कर भाग चुके हैं। काम की तीव्रता इस बात पर निर्भर करती है कि बोर्ड किसी पार्टी का गठित होगा। इन छोटी सरकारों का प्रदेश सरकार से बेहतर तालमेल हो। इसी संकल्प पत्र को लेकर हम चुनाव में उतरे हैं।

priyankajoshi

priyankajoshi

इन्होंने पत्रकारीय जीवन की शुरुआत नई दिल्ली में एनडीटीवी से की। इसके अलावा हिंदुस्तान लखनऊ में भी इटर्नशिप किया। वर्तमान में वेब पोर्टल न्यूज़ ट्रैक में दो साल से उप संपादक के पद पर कार्यरत है।

Next Story