Top

सिंधिया को कांग्रेस ने बताया गद्दार, कहा- MP में नहीं बचेगी सरकार

कांग्रेस के बड़े नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। वह मंगलवार शाम 6 बजे बीजेपी में शामिल होंगे। दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह से बैठक के बाद उन्होंने अपना इस्तीफा सार्वजनिक किया।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 10 March 2020 8:52 AM GMT

सिंधिया को कांग्रेस ने बताया गद्दार, कहा- MP में नहीं बचेगी सरकार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: कांग्रेस के बड़े नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। वह मंगलवार शाम 6 बजे बीजेपी में शामिल होंगे। दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह से बैठक के बाद उन्होंने अपना इस्तीफा सार्वजनिक किया।

यह पढ़ें…सिंधिया नहीं माने तो कमलनाथ सरकार गई, शिवराज होंगे मुख्यमंत्री

सिंधिया के इस फैसले के बाद कांग्रेस ने पार्टी से निकाल दिया है। अब मध्य प्रदेश से कमलनाथ के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार का गिरना तय है।

सिंधिया के इस फैसले पर कांग्रेस ने इस पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है। लोकसभा में नेता विपक्ष और कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने कहा है कि जिस पार्टी ने इतना दिया है, वो उससे बेईमानी कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें...होली पर बड़ा हादसा: खाई में गिरी बस, कई यात्रियों की मौत, लाशों की गिनती जारी

उन्होंने कहा है कि सिंधिया के इस फैसले से पार्टी का नुकसान हुआ है और लगता है मध्य प्रदेश में हमारी सरकार नहीं बच पाएगी। अधीर रंजन ने सिंधिया के इस फैसले को पार्टी के साथ गद्दारी करार दिया।

अधीर रंजन ने ये भी कहा कि सिंधिया कांग्रेस में राजा की तरह थे, लेकिन बीजेपी में जाकर वो प्रजा हो जाएंगे।

यह भी पढ़ें...कांग्रेस को सबसे बड़ा झटका, सिंधिया के बाद 20 विधायकों ने दिया इस्तीफा

कांग्रेस ने सिंधिया पर गद्दारी का इल्जाम लगा रही हो, लेकिन ज्योतिरादित्य सिंधिया ने इसे जनसेवा से जोड़कर बताया है। सिंधिया ने कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देते हुए अपना इस्तीफा पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को भेजा है।

यह भी पढ़ें...PM मोदी से मिले ज्योतिरादित्य सिंधिया, MP में कभी भी गिर सकती है कमलनाथ सरकार

साथ ही उन्होंने इसे अपने ट्विटर पर भी शेयर किया है। सिंधिया ने इस इस्तीफे में कहा है कि वे जनसेवा के लिए राजनीति में आए हैं और बीते कुछ समय से कांग्रेस में रहते हुए ऐसा नहीं कर पा रहे थे।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story