Top

कांग्रेस का एलान: सत्ता में आए तो तीन तलाक कानून करेंगे खत्म

लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस पार्टी ने बड़ा एलान किया है। पार्टी का कहना है कि वह सत्ता में आने पर तीन तलाक कानून खत्म कर देगी। यह बात दिल्ली में अल्पसंख्यक अधिवेशन के दौरान पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की मौजूदगी में सिलचर से सांसद सुष्मिता देब ने कहीं

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 7 Feb 2019 10:21 AM GMT

कांग्रेस का एलान: सत्ता में आए तो तीन तलाक कानून करेंगे खत्म
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस पार्टी ने बड़ा एलान किया है। पार्टी का कहना है कि वह सत्ता में आने पर तीन तलाक कानून खत्म कर देगी। यह बात दिल्ली में आयोजित कांग्रेस अल्पसंख्यक अधिवेशन के दौरान पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की मौजूदगी में सिलचर से सांसद सुष्मिता देब ने कहीं। सुष्मिता देब ने कहा, मैं आप लोगों से वादा करती हूं कि कांग्रेस की सरकार आएगी 2019 में और हम इस तीन तलाक कानून को खारिज करेंगे। ये आप लोगों से वादा है।

ये भी पढ़ें...ट्रिपल तलाक पर कोर्ट का सुप्रीम फैसला, जानिए किसने क्या कहा ?

इस दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी प्रधानमंत्री मोदी पर जमकर बरसे। उन्होंने मोदी को डरपोक तक कह दिया, वहीं तमाम सरकारी संस्थान में आरएसएस के लोगों के बैठे होने का आरोप लगाया।

उन्होंने कहा कि पांच साल तक उनसे लड़ने के बाद मुझे प्रधानमंत्री मोदी का चरित्र पता चल गया है, वह कायर हैं। जब कोई उनके सामने खड़ा होता है तो वह भाग खड़े होते हैं। राहुल गांधी यही नहीं रुके उन्होंने डोकलाम मामले में मोदी पर डर जाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा, चीन ने अपनी सेना डोकलाम में भेज दी लेकिन प्रधानमंत्री मोदी चीन के सामने हाथ बांधे खड़ें रहे।

राहुल ने मंच से ही मोदी को चुनौती दी कि प्रधानमंत्री मोदी को मंच पर मेरे साथ दस मिनट के लिए खड़ा कर दो और राष्ट्रीय सुरक्षा पर बहस करवाओ, वह भाग जाएंगे। राहुल इससे पहले भी अपने भाषणों में कहते आए हैं कि मोदी मेरे साथ दस मिनट मिनट बहस कर के दिखाएं।

राहुल ने कहा, 'हिंदुस्तान का प्रधानमंत्री सिर्फ जोड़ने की बात कर सकता है, तोड़ने की नहीं। तोड़ने की करी तो उनको हटा दिया जाएगा। 2019 में नरेंद्र मोदी, भाजपा और आरएसएस को कांग्रेस हराने जा रही है। भारत के संस्थान किसी पार्टी के नहीं हैं। वह देश के हैं और उन्हें बचाना हमारी जिम्मेदारी है। फिर चाहे वह कांग्रेस हो या फिर कोई और पार्टी। उन्हें लगता है कि वह (भाजपा) देश से ऊपर हैं।

राहुल ने कहा, 'प्रधानमंत्री मोदी के चेहरे पर डर देखा जा सकता है, अब वह जानते हैं कि आप लोगों को बांटकर भारत पर शासन नहीं कर सकते। कांग्रेस 2019 में भाजपा, आरएसएस को हराएगी, जो लोग घृणा फैला रहे हैं, उन्हें हटाया जाएगा। आरएसएस देश में संस्थानों पर कब्जे का प्रयास कर रही है। हम मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ के संस्थानों में बैठाए गए आरएसएस के लोगों को हटाएंगे।'



राहुल ने पीएम पर आरोप लगाते हुए कहा, 'चीन ने अपनी सेना डोकलाम में भेज दी लेकिन प्रधानमंत्री मोदी चीन के सामने हाथ बांधे रहे। प्रधानमंत्री मोदी को मंच पर मेरे साथ दस मिनट के लिए खड़ा कर दो और राष्ट्रीय सुरक्षा पर बहस करवाओ, वह भाग जाएंगे। पांच साल तक उनसे लड़ने के बाद मुझे प्रधानमंत्री मोदी का चरित्र पता चल गया है। जब कोई उनके सामने खड़ा होता है तो वह भाग खड़े होते हैं।'

ये भी पढ़ें...यूपी: ट्रिपल तलाक और हलाला का विरोध करने वाली पीड़िता पर एसिड अटैक

राहुल ने कहा, 'हिंदुस्तान का प्रधानमंत्री सिर्फ जोड़ने की बात कर सकता है, तोड़ने की नहीं। तोड़ने की करी तो उनको हटा दिया जाएगा। 2019 में नरेंद्र मोदी, भाजपा और आरएसएस को कांग्रेस हराने जा रही है। भारत के संस्थान किसी पार्टी के नहीं हैं। वह देश के हैं और उन्हें बचाना हमारी जिम्मेदारी है। फिर चाहे वह कांग्रेस हो या फिर कोई और पार्टी।

उन्हें लगता है कि वह (भाजपा) देश से ऊपर हैं। 3 महीनों में वह समझ जाएंगे कि देश उनसे ऊपर है। पीएम मोदी मुझसे 10 मिनट सिटेज पर बहस नहीं कर सकते। वह एक डरपोक शख्स हैं।'

ये भी पढ़ें...ट्रिपल तलाक की मुहिम में शामिल महिलाओं को राहत, गिरफ्तारी पर रोक -ब्लैकमेलिंग का है आरोप

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story