Top

गुलाम नबी आजाद बोले- सोफे पर बैठकर राजनीति करती हैं माया, नीचे बैठती है जनता

aman

amanBy aman

Published on 7 Feb 2017 12:36 PM GMT

गुलाम नबी आजाद बोले- सोफे पर बैठकर राजनीति करती हैं माया, नीचे बैठती है जनता
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मथुरा/हाथरस: कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव और यूपी चुनाव प्रभारी गुलाम नबी आजाद ने मथुरा में मंगलवार (7 फरवरी) को विपक्षी पार्टियों को जमकर आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि 'मायावती सिर्फ सोफे पर बैठकर राजनीति करना जानती हैं और जनता नीचे बैठती है। लेकिन कांग्रेस में ऐसा नहीं है।' बीजेपी को रोकने के लिए समाजवादी पार्टी और कांग्रेस का गठबंधन जरूरी था। आने वाले लोकसभा चुनाव भी मिलकर लड़ा जाएगा।'

ये बात उन्होंने सपा-कांग्रेस गठबंधन के प्रत्याशी प्रदीप माथुर के समर्थन में आयोजित जनसभा में कही। बता दें कि मथुरा में फेज-1 में 11 फरवरी को वोटिंग होगी।

गंगा-जमुनी तहजीब ने मिलकर रहना सिखाया

वहीं दूसरी तरफ आजाद ने एक अन्य सभा हाथरस में की। यहां सपा-कांग्रेस गठबंधन के प्रत्याशी राजेश राज जीवन के लिए जनसभा को संबोधित करते हुए गुलाम नबी आजाद ने कहा कि 'दोनों पार्टियां अलग-अलग थीं अब मिलकर एक हो गई हैं। आजाद ने कहा, हमारी गंगा जमुनी तहजीब ने सभी को मिलकर रहना सिखाया है। ऐसा कोई गांव नहीं जिसमें हिन्दू-मुस्लिम न हों। लेकिन बीते दो-ढाई साल में लोग डरने लगे हैं।'

मोदी ईद पर टोपी पहनने से डरते हैं

आजाद ने आगे कहा, सरकार तो अटल बिहारी वाजपेयी की भी थी। ऐसा नेता आज तक बीजेपी में तो किया देश में नहीं होगा। अटल ने भी 6 साल हुकूमत की थी। कोई डर नहीं, कोई भय नहीं था। आज ऐसा नहीं है। जब ईद होती थी तो अटल बिहारी वाजपेयी अपने घर पर ईद मिलान समारोह करते थे और टोपी पहनते थे। लेकिन वर्तमान पीएम टोपी पहनने से डरते हैं।'

आगे की स्लाइड में पढ़ें पूरी खबर ...

रालोद मौकापरस्त पार्टी

गुलाम नबी आजाद ने राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) पर भी मौका-परस्ती का आरोप लगाते हुए कहा कि 'लोकसभा का चुनाव लड़ते वक्त बीजेपी का दामन थामा। विधानसभा में हमारे साथ आए और अब हमारे यहां दाल न गलने पर अकेले चुनाव लड़ रहे हैं। आने वाला वक्त विकास और प्रगति का होगा। राजनीति में ठहराव की जरूरत रहती है, लेकिन रालोद है कि एक जगह रहती ही नहीं।'

और क्या बोले गुलाब नबी आजाद?

पू्र्व केंद्रीय मंत्री ने आगे कहा कि 'पीएम मोदी के नोटबंदी के फैसले से करीब 120 गरीब लोग मारे गए। एक दर्जन बच्चों ने अपनी मां की गोद में ही दम तोड़ दिया। एक महिला ने लाइन में ही बच्चे को जन्म दिया। इससे बड़ी शर्म की बात और क्या हो सकती है। बावजूद इसके प्रधानमंत्री नोटबंदी को लेकर अपनी पीठ थपथपा रहे हैं। नोटबंदी से हर वर्ग प्रभावित हुआ है।'

सरकार बनी तो माथुर होंगे कैबिनेट मंत्री

इसी सभा में कांग्रेस नेता राजबब्बर ने भी अपने अंदाज में विपक्षियों पर व्यंग्य किए। यूपी प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजबब्बर ने कहा कि 'अगर सरकार बनी तो प्रदीप माथुर कैबिनेट मंत्री बनेंगे।'

रोड-शो भी किया

इसके बाद गुलाम नमी आजाद व राज बब्बर ने कांग्रेस-सपा प्रत्याशी प्रदीप माथुर के पक्ष में वृंदावन के सीएफसी चौराहा से रोड-शो किया। दोनों नेताओं ने आम जन से पार्टी प्रत्याशी के पक्ष में अधिक से अधिक मतदान करने की अपील की।

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story