Top

लोकप्रियता में कमी आने पर इंदिरा ने कानपुर से किया था चुनावी अभियान का आगाज, पोता दोहराएगा इतिहास

Manali Rastogi

Manali RastogiBy Manali Rastogi

Published on 26 July 2018 4:34 AM GMT

लोकप्रियता में कमी आने पर इंदिरा ने कानपुर से किया था चुनावी अभियान का आगाज, पोता दोहराएगा इतिहास
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कानपुर: कानपुर शहर कांग्रेस पार्टी के बहुत ही लकी रहा है, जब भी कांग्रेस पार्टी की देश में लोक प्रियता घटती थी तो कांग्रेस के बड़े नेता अपना चुनावी अभियान की शुरुआत कानपुर से करते थे। पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरु भी ऐसा कर चुके है।

यह भी पढ़ें: अनुप्रिया पटेल ने दिए संकेत, अब अपना दल (एस) सीटों के बंटवारे पर नहीं करेगी समझौता

इसके बाद 1971 में भी कांग्रेस की लोकप्रियता घटी थी तो पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने भी कानपुर से लोकसभा चुनाव की शुरुआत की थी। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को यह पुराना इतिहास याद दिलाने के लिए कांग्रेसियों का एक प्रतिनिधि मंडल दिल्ली के लिए रवाना हुआ है।

कानपुर महानार कांग्रेस कमेटी की जिलाध्यक्ष हरप्रकाश अग्निहोत्री की नेतृत्व में 12 सदस्यी प्रतिनिधि मंडल दिल्ली के लिए बीते बुधवार को रवाना हुआ है। यह प्रतिनिधि मंडल कांग्रेस अध्यक्ष राहुल और सोनिया गांधी से मिलेगा।

यह प्रतिनिधि मंडल राहुल गांधी से पुराना इतिहास दोहराने की बात करेगे और कानपुर से चुनाव अभियान शुरू करने की बात कहेंगे। इसके साथ ही यह भी मांग रखी जाएगी की शहर आ कर गंगा करें और सरकार बनने के बाद गंगा को स्वाछ करने का संकल्प ले।

कानपुर शहर कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं का हब रहा है, पंडित जवाहर लाल नेहरु, इंदिरा गांधी, राजीव गांधी, सोनिया गांधी से लेकर राहुल गांधी तक इस शहर में कई जनसभाओं को संबोधित कर चुके हैं लेकिन पुराने कांग्रेस कार्यकर्ताओं का मानना है कि जब-जब कांग्रेस की लोकप्रिय देश में कम होने लगती है तो कांग्रेस अपने चुनावी अभियान का आगाज कानपुर से करती है। ऐसे में उसे प्रधानमंत्री की कुर्सी पर बैठने से कोई नहीं रोक सकता है। ऐसा पंडित नेहरु ने भी किया और इंदिरा गांधी ने भी किया था।

कांग्रेस जिलाध्यक्ष हरप्रकाश अग्निहोत्री के मुताबिक हम लोग दिल्ली जाकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात करेगे । हम लोग राहुल गांधी से आग्रह करेगे कि चुनावी अभियान का आगाज कानपुर से करे । चुनावी अभियान की द्रष्टि कोण से कांग्रेस पार्टी के लिए बहुत भाग्यसाली है।

ऐसा उनकी दादी इंदिरा गांधी ने 1971 में किया था, उस वक्त कांग्रेस की लोक प्रियता पूरे देश में घटी थी। जब इंदिरा गांधी ने कानपुर से देश की जनता को संदेश दिया था तब लोग अपने आप कांग्रेस से जुड़ने लगे थे। जब परिणाम आए तो सभी चौक गए थे कांग्रेस पार्टी ने प्रचंड बहुमत के साथ दिल्ली में सरकार बनायी थी। इससे पहले उनके बाबा पंडित जवाहर लाल नेहरु भी ऐसा कर चुके है।

हम उनसे इस पुराने इतिहास को दोहराने की बात करेगे कि वह कानपुर आये और चुनाव की शुरुआत शहर से करें। कानपुर के गंगा घाट पर गंगा आरती आरती करे और संकल्प ले की सरकार बनने के बाद गंगा को साफ़ और स्वच्छ करेंगे।

इसके साथ ही लोकसभा चुनाव को लेकर पार्टी की तैयारियों के विषय में भी उनसे चर्चा की जाएगी। चुनावी रानीति बनाकर कानपुर की सीट को उनके झोली में डालने का संकल्प लेकर हम लोग लौटेंगे। मौजूदा कानपुर के हालत से भी उनको अवगत कराएंगे।

Manali Rastogi

Manali Rastogi

Next Story