Top

कांग्रेस ने जारी किया घोषणापत्र, राज बब्बर बोले- राहुल गांधी ने समझा है यूपी के किसानों का दर्द

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 8 Feb 2017 7:45 AM GMT

कांग्रेस ने जारी किया घोषणापत्र, राज बब्बर बोले- राहुल गांधी ने समझा है यूपी के किसानों का दर्द
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: कांग्रेस ने बुधवार को पार्टी कार्यालय पर अपना चुनावी घोषणापत्र जारी किया। इस खास मौके पर कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव और यूपी चुनाव प्रभारी गुलाम नबी आजाद, यूपी कांग्रेस अध्यक्ष राजबब्बर, पार्टी का सीएम फेस शीला दीक्षित, सलमान खुर्शीद, राजीव शुक्ला और प्रमोद तिवारी भी मौजूद रहे।

घोषणापत्र जारी करते हुए कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर ने कहा कि घोषणापत्र में कांग्रेस पार्टी की प्रतिबद्धता है। किसान यात्रा के दौरान समस्याओं को राहुल जी ने जाना। उत्तर-प्रदेश की समस्याओं को लेकर घोषणापत्र बनाया गया है। इस घोषणापत्र में हर वर्ग का ध्यान रखा गया है।

यह भी पढ़ें...मुलायम के बिना अखिलेश ने जारी किया सपा का घोषणा पत्र, कहा- पूरा करेंगे अपना हर वादा

क्या बोले गुलाम नबी आजाद ?

गुलाम नबी आजाद ने कहा कि कांग्रेस और समाजवादी पार्टी मिलकर उत्तर प्रदेश के इस चुनाव में एक ऐतिहासिक इबारत लिखेंगे। उन ताकतों का मुकाबला करेंगे वो वोट के लिए लोगों को बांटती हैं। समाजिक सद्भाव और एकता को बनाए रखना हमारी पार्टी की पहली प्राथमिकता होगी। बच्चियों के लिए आर्थिक नीतियां बनाएंगे। गरीब किसानों और मजदूरों के लिए काम करेंगे।

गठबंधन के कन्फ्यूजन पर क्या बोले ?

गुलाम नबी आजाद ने सपा के साथ गठबंधन के बाद सीटों पर हुए कन्फ्यूजन पर कहा कि कई जगहों पर समाधान निकाल रहे हैं। कहीं सपा तो कहीं हम उम्मीदवार वापस लेंगे। तीन से चार दिन में सब साफ हो जाएगा।

यह भी पढ़ें...मायावती ने कहा-BJP का घोषणापत्र छलावा, सत्ता में आई तो खत्म कर देगी आरक्षण

और क्या बोले आजाद ?

- जैसा जोश आज़ादी के वक़्त था, वैसा जोश भर कर काम करेंगे। यूपी को और आगे बढ़ाएंगे।

-बीजेपी की केंद्र सरकार से जनता परेशान है। बीजेपी सिर्फ धन्नासेठों की सरकार बनकर रह गई है।

-समाज के उत्थान के लिए काम करेंगे। सभी धर्म और जातियों के लिए काम करेंगे।

-लड़कियों की मुफ्त शिक्षा देंगे। 9 से 12 तक लड़कियों को साइकिल भी देंगे।

-5 साल के अंदर 50 लाख युवाओं को रोजगार देंगे। शुगर इंडस्ट्री को पटरी पर लेकर आएंगे।

-क़ानून व्यवस्था के लिए हर जिले महिला थाने होंगे। पीड़ितों की मदद के लिए कमीशन बनेगा।

-लड़कियों के लिए सशक्तिकरण की योजना बनाई गई है। 50 हज़ार से एक लाख तक शादी पर देंगे।

-50 फीसदी पंचायतों में महिलाओं को आरक्षण देंगे। नदियों को साफ़ करने की योजना बनाई गई है।

-'क़र्ज़ा माफ़,बिजली हाफ पर' जो वादा किया था उसके लिए हम दोनों दल मिलकर सरकार पर दबाव बनाएंगे।

- अल्पसंख्यक लड़के और लड़कियों को बिज़नेस करने के लिए रकम देंगे।

घोषणापत्र पर क्या कहना है शीला दीक्षित का ?

कांग्रेस पार्टी की यूपी में सीएम उम्मीदवार शीला दीक्षित ने घोषणापत्र को बाकी पार्टियों से अच्छा है। इसमें सबकुछ कवर किया गया है। उन्होंने कहा कि जो कमियां सपा सरकार में रही थीं, उन्हें भी पूरा करेंगे। महिलाओं और लड़कियों की शिक्षा के लिए किए गए हर वादे को निभाएंगे। घोषणापत्र में कोई कमी या सुझाव हो तो वो भी आमंत्रित है।

आगे की स्लाइड्स में देखिए, घोषणापत्र की कुछ और तस्वीरें...

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story