×

बिहार कांग्रेस मुख्यालय के बाहर शत्रुघ्न के खिलाफ धरना प्रदर्शन, उम्मीदवारी रद्द करने की मांग

22 अप्रैल अभिनेता से नेता बने शत्रुघ्न सिन्हा को राजद प्रमुख लालू प्रसाद के 'दलाल' की संज्ञा देते हुए कांग्रेस कार्यकर्ताओं के एक समूह ने सोमवार को पटना साहिब लोकसभा क्षेत्र से शत्रुघ्न की उम्मीदवारी रद्द करने की मांग करते हुए पटना स्थित पार्टी मुख्यालय के बाहर धरना प्रदर्शन किया।

Vidushi Mishra

Vidushi MishraBy Vidushi Mishra

Published on 23 April 2019 4:15 AM GMT

बिहार कांग्रेस मुख्यालय के बाहर शत्रुघ्न के खिलाफ धरना प्रदर्शन, उम्मीदवारी रद्द करने की मांग
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

पटना: 22 अप्रैल अभिनेता से नेता बने शत्रुघ्न सिन्हा को राजद प्रमुख लालू प्रसाद के 'दलाल' की संज्ञा देते हुए कांग्रेस कार्यकर्ताओं के एक समूह ने सोमवार को पटना साहिब लोकसभा क्षेत्र से शत्रुघ्न की उम्मीदवारी रद्द करने की मांग करते हुए पटना स्थित पार्टी मुख्यालय के बाहर धरना प्रदर्शन किया।

यह भी देखे:लोकसभा चुनाव 2019: तीसरे चरण के लिए मतदान शुरू, राहुल-शाह की किस्मत दांव पर

बिहार प्रदेश कांग्रेस कमेटी (बीपीसीसी) के प्रवक्ता एच के वर्मा ने हालांकि आशंका जताई कि कार्यकर्ताओं को "विपक्षी दलों" द्वारा उनकी पार्टी मुख्यालय सदाकत आश्रम में भेजा गया था।

प्रदर्शनकारियों ने आरोप लगाया कि सिन्हा को राजद के इशारे पर कांग्रेस उम्मीदवार बनाया गया और बीपीसीसी अध्यक्ष मदन मोहन झा, पार्टी नेता शक्ति सिंह गोहिल और कांग्रेस के चुनाव अभियान समिति के प्रदेश अध्यक्ष अखिलेश प्रसाद सिंह द्वारा इस सीट को "बेच" दिया गया।

यह भी देखे:छत्तीसगढ़ के सात लोकसभा क्षेत्रों में मतदान प्रारंभ

इससे पहले, रविवार को सिन्हा को कांग्रेस के प्रदेश मुख्यालय में उस समय घेर लिया गया था जब एक बैठक को संबोधित करने के दौरान उन्होंने कहा था "जब मैं किसी के साथ दोस्ती करता हूं तो मैं अपनी वफादारी नहीं बदलता"।

सिन्हा पटना साहिब लोकसभा सीट से मौजूदा सांसद हैं और 2014 में उन्होंने भाजपा के टिकट पर लगातार दूसरी बार जीत दर्ज की थी।

(भाषा)

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story