J-K: राज्यपाल ने इसलिए भंग की विधानसभा, लोकसभा संग चुनाव होने की उम्मीद

जम्मू-कश्मीर में राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने बुधवार की शाम को विधानसभा भंग कर दी। बता दें, बुधवार को कुछ पार्टियों ने पीडीपी की अगुवाई में राज्यपाल को सरकार बनाने का न्योता भेजा था, जिसके बाद मलिक ने कुछ देर बाद ही विधानसभा भंग करने का ऐलान कर दिया।

जम्मू: जम्मू-कश्मीर में राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने बुधवार की शाम को विधानसभा भंग कर दी। बता दें, बुधवार को कुछ पार्टियों ने पीडीपी की अगुवाई में राज्यपाल को सरकार बनाने का न्योता भेजा था, जिसके बाद मलिक ने कुछ देर बाद ही विधानसभा भंग करने का ऐलान कर दिया। राज्यपाल के इस फैसले का विपक्षी पार्टियां काफी आलोचना कर रही हैं।

यह भी पढ़ें: J&K: विधानसभा भंग होने से करीब आए अब्दुल्ला-महबूबा, गवर्नर को BJP का समर्थन

वहीं, राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने विधानसभा भंग करने के पीछे का कारण भी बताया है। मलिक ने बताया कि सरकार बनाने के लिए खरीद-फरोख्त होने आशंका उन्हें हो रही थी, जिसकी वजह से उन्हें ये फैसला लेना पड़ा। उन्होंने ये भी कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती की ओर से उन्हें कोई ख़त नहीं मिला है।

यह भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर: कुलगाम में आतंकियों ने सेना के कैंप पर किया हमला, एक नागरिक घायल

इस मामले में राजभवन द्वारा भी कुछ बयान जारी किए गए हैं, जिसमें कहा गया है कि यह जरुरी नहीं कि विधानसभा चुनाव अभी हों, ये 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव के साथ भी कराए जा सकते हैं।

यह भी पढ़ें: मुरादाबाद-बरेली के बीच बेपटरी हुई ट्रेन, 17 ट्रेनों के रूट हुए डायवर्ट