Top

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष की ताजपोशी, पूर्व सीएम के सामने चले लात घूंसे

पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह और पार्टी के राज्य अध्यक्ष सुखविंद्र सिंह के बीच की तनातनी कार्यकर्ताओं की भिडंत का कारण बन गई है। दोनों गुटों में जमकर लात घूसे चले। मारधाड़ में एक पदाधिकारी का सिर फूट गया। आपको बता दें, कांग्रेस कार्यालय में नए अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर की ताजपोशी होनी थी।  

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 18 Jan 2019 5:48 AM GMT

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष की ताजपोशी, पूर्व सीएम के सामने चले लात घूंसे
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

शिमला : पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह और पार्टी के राज्य अध्यक्ष सुखविंद्र सिंह के बीच की तनातनी कार्यकर्ताओं की भिडंत का कारण बन गई है। दोनों गुटों में जमकर लात घूसे चले। मारधाड़ में एक पदाधिकारी का सिर फूट गया। आपको बता दें, कांग्रेस कार्यालय में नए अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर की ताजपोशी होनी थी।

ये भी देखें :बीजेपी उपाध्यक्ष ने कहा- राहुल कांग्रेस सल्तनत के आखिरी बादशाह

कार्यक्रम में शिरकत करने वीरभद्र सिंह और सुखविंद्र सिंह भी पहुंचे थे। नारेबाजी शुरू हुई तो भिडंत में बदलते देर नहीं लगी। दोनों नेताओं के समर्थकों ने कुर्सियां चलानी शुरू कर दीं। एक दूसरे पर लात घूसे बरसाए। हंगामा बढ़ा तो वीरभद्र सिंह, मुकेश अग्निहोत्री, कौल सिंह ठाकुर, सुधीर शर्मा कार्यक्रम छोड़ कर चले गए।

ये भी देखें :RSS का मोदी सरकार पर तंज, कहा- 2025 में बनेगा राम मंदिर

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story