Top

हिंदू समाज पार्टी का ऐलान: 10 महानगरों में गोडसे की प्रतिमाएं लगाएंगे

Manali Rastogi

Manali RastogiBy Manali Rastogi

Published on 11 Oct 2018 8:49 AM GMT

हिंदू समाज पार्टी का ऐलान: 10 महानगरों में गोडसे की प्रतिमाएं लगाएंगे
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: अखिल भारतीय हिंदू महासभा के कार्यकारी राष्ट्रीय अध्यक्ष रहे कमलेश तिवारी अपने विवादित बयानों के लिए जाने जाते हैं। मुस्लिम धर्म के पैगम्बर पर विवादित टिप्पणी को लेकर वह 11 महीने जेल में भी रहें। अब उन्होंने देश भर के 10 महानगरों में नाथू राम गोडसे की प्रतिमाएं स्थापित करने का ऐलान किया है।

यह भी पढ़ें: सहारनपुर: प्रकृति का कहर, बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि से फसल तबाह

कमलेश तिवारी ने बताया कि हिंदू हितों की रक्षा के मकसद से उन्होंने हिंदू समाज पार्टी का गठन किया है। अब उनकी पार्टी देश भर के 10 महानगरों में गोडसे की प्रतिमाएं लगाएगी। यह प्रतिमाएं निजी जमीन पर स्थापित होंगी। इसके पहले उनकी पार्टी के चित्रकूट जिलाध्यक्ष को गोडसे की मूर्ति स्थापना के आरोप में जेल भी भेजा गया था।

यह भी पढ़ें: #MeToo: …और इस तरह शुरू हो गया ये कैंपेन, जानें पूरा माजरा

आगामी रणनीति का खुलासा करते हुए उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी राजस्थान और मध्यप्रदेश के विधानसभा चुनावों में 60 से 70 प्रत्याशी उतारेगी। वह 18 से 20 अक्टूबर तक प्रत्याशियों के नाम का ऐलान करेंगे। उनकी पार्टी सियासी दलों द्वारा बोये गए जातिवादी जहर का जवाब देने के लिए अपने चुनावी मैदान में उतार रही है। लोकसभा चुनाव में भी उनकी प्रत्याशी उतारने की तैयारी है।

यह भी पढ़ें: #MeToo: जब चीज़ें सत्यापित हों, तभी कुछ कहना चाहिए- सरोजनी अग्रवाल

आगामी चुनाव में उनकी पार्टी 300 से ज्यादा सीटों पर चुनाव लड़ेगी। तीन माह के अंदर 300 से ज्यादा जिलों में पार्टी के गठन किया जाएगा। हालिया एससी/एसटी विवाद के खिलाफ उनकी पार्टी ने राजधानी में आंदोलन किया था। आपको बता दें कि कमलेश तिवारी गोडसे का मंदिर बनाने की मांग करते रहे हैं। बीते वर्ष उन्होंने ओवैसी का सिर काटने वाले को 10 लाख का ईनाम देने का भी एलान किया था। धर्म विशेष के पैगम्बर के खिलाफ टिपप्णी की वजह से उन्हें रासुका के तहत निरूद्ध किया गया था।

Manali Rastogi

Manali Rastogi

Next Story