जम्मू कश्मीर की सियासत गरमाई: अब ‘आपकी पार्टी’ मुकाबले के लिए तैयार

जम्मू-कश्मीर की राजनीति में एक नई राजनीतिक पार्टी दस्तक देने जा रही है। पीडीपी के बागी नेता और पूर्व मंत्री अल्ताफ बुखारी इसी हफ्ते एक नई पार्टी का ऐलान कर सकते हैं। जिसका नाम ‘आपकी पार्टी’ होगा।

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर की राजनीति में एक नई राजनीतिक पार्टी दस्तक देने जा रही है। पीडीपी के बागी नेता और पूर्व मंत्री अल्ताफ बुखारी इसी हफ्ते एक नई पार्टी का ऐलान कर सकते हैं। जिसका नाम ‘आपकी पार्टी’ होगा। बुखारी ने पार्टी के संविधान का मसौदा तैयार करने के लिए पांच सदस्यीय टीम का गठन किया है।

बागी नेता और कई मंत्री होंगे शामिल….

इस नई पार्टी में कई बागी नेता और कुछ पूर्व मंत्री भी शामिल होंगे। जबकि कुछ नए चेहरों को भी पार्टी में कुछ अहम ज़िम्मेदारियाँ दी जायेंगी। अल्ताफ बुखारी ने बताया कि पार्टी में अनुभवी राजनेताओं और युवाओं का मिश्रण रहेगा। उन्होंने दावा किया कि नए राजनीतिक मंच के लिए ‘आपकी पार्टी ‘ नाम को अच्छी प्रतिक्रिया मिल रही है। इस संबंध में बुखारी ने 29 जनवरी को अपने सहयोगियों के साथ बैठक भी की थी।

कौन हैं अल्ताफ़ बुख़ारी….

अल्ताफ बुखारी जम्मू-कश्मीर के मुख्यधारा के पहले नेता थे। जिन्होंने सार्वजनिक रूप से कहा था कि राजनीतिक उद्देश्य के लिए धारा-370 को हटाया गया है। बुखारी और गुलाम हसन मीर दोनों मंत्री रह चुके हैं। अल्ताफ बुखारी जम्मू-कश्मीर की पूर्व सरकार में वित्त मंत्री रह चुके हैं। बुखारी जम्मू-कश्मीर के अमिरा कदल विधानसभा क्षेत्र से विधायक रहे हैं और पिछली सरकार में शिक्षा मंत्री भी रह चुके हैं। उनके पास पीडब्लूडी मंत्रालय का भी कार्यभार रह चुका है।

किसानों के लोकप्रिय नेता….

अल्ताफ बुखारी को जम्मू-कश्मीर में कृषि को बढ़ावा देने वाले जन नेता के रूप में जाना जाता है। उन्होंने खेती के विकास के कई कदम उठाए जिन्हें लोगों ने सराहा। बुखारी को कृषि क्षेत्र में 35 साल से ज्यादा वक्त का अनुभव है। राष्ट्रीय बागवानी बोर्ड के निदेशक पद पर रहे बुखारी आईआईटी दिल्ली के बोर्ड ऑफ गवर्नर्स में भी शामिल रहे हैं। आईआईटी दिल्ली के बोर्ड में रहते हुए बुखारी ने कृषि से जुड़े कई शोध किए हैं।