झांसी में गरजे अखिलेश, पुष्पेन्द्र एनकाउंटर पर कह दी ये बड़ी बात

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने झांसी में पुलिस एनकाउंटर में मारे गये पुष्पेन्द्र यादव के संबंध में कहा है कि यह एनकाउंटर नहीं हत्या है।

फ़ाइल फोटो

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने झांसी में पुलिस एनकाउंटर में मारे गये पुष्पेन्द्र यादव के संबंध में कहा है कि यह एनकाउंटर नहीं हत्या है। उन्होंने मांग की कि आरोपी एसओ पर 302 का केस दर्ज कर घटना की हाईकोर्ट के सिटिंग जज से जांच कराई जाए।

सपा मुखिया बुधवार को झांसी में पुलिस एनकाउंटर में मारे गये पुष्पेन्द्र यादव के करगुआ खुद्र गांव स्थित आवास पर पीड़ित परिजनों से मुलाकात की और सांत्वना दी। परिजनों से मिलने के बाद अखिलेश यादव ने कहा कि किसी को भी पुलिस की कहानी पर भरोसा नहीं है।

झांसी का पुलिस प्रशासन जो घटनाक्रम बता रहा है उससे कोई संतुष्ट नही है। परिवार को भी उस पर भरोसा नही है। उन्होंने विश्वास दिलाया कि पुष्पेन्द्र यादव के परिवार को न्याय दिलाया जाएगा। समाजवादी पार्टी उनके दुख में शामिल है और वह उनका साथ देगी।

पुलिस निर्दोषों की हत्या कर रही: अखिलेश

पुष्पेन्द्र के परिजनों से मिलने के बाद अखिलेश ने कहा कि पुलिस निर्दोषों की हत्या कर रही है। कानून के रक्षक ही भक्षक बन रहे हैं। जनता के नागरिक अधिकारों पर डाका डाला जा रहा है। उन्होंने कहा जिस प्रदेश के राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री है वहां जनता को न्याय न मिले तो ताज्जुब हैं। उन्होंने कहा कि सबसे ज्यादा मानव अधिकार आयोग की नोटिस उत्तर प्रदेश सरकार को मिली हैं।

हवालात में मौतें यहीं सबसे ज्यादा हुई है। कानून व्यवस्था ध्वस्त है। उन्होंने सवाल उठाया कि मृतक और उसके शोकाकुल परिवार को इंसाफ दिलाने के लिए उठ रही आवाजों को कहां तक दबाएगी सरकार?

इससे पूर्व बुधवार सुबह राजधानी लखनऊ से झांसी रवाना होने से पहले सपा मुखिया ने कहा कि भाजपा सरकार में सत्ता का दंभ अब सिर चढ़कर बोल रहा है और वह जनता की आवाज को बूटों तले रौंदते हुए मनमानी पर उतर आयी है।

लोकतंत्र में संविधान और नैतिक मूल्यों को दरकिनार करते हुए प्रदेश सरकार को भ्रम है कि उसके अवांछित आचरण की जनता उपेक्षा कर देगी या मौन रहकर सह लेगी लेकिन अत्याचारी जान लें इंसाफ की सुबह होकर रहेगी।

ये भी पढ़ें…अखिलेश यादव ने योगी सरकार को लेकर ऐसी बात कह सबको चौका दिया