Top

हर बूथ पर 5 महिलाओं को खड़ा करें, 8 लाख महिला सेना तैयार हो जाएगी

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 30 Oct 2018 2:19 PM GMT

हर बूथ पर 5 महिलाओं को खड़ा करें, 8 लाख महिला सेना तैयार हो जाएगी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ : सीएम योगी आदित्यनाथ ने भाजपा महिला मोर्चा के कार्यसमिति को संबोधित करते हुए कहा कि पीएम आवास योजना के तहत सपा सरकार में पांच साल में 63 हजार आवास बने थे। पर हमारी सरकार में 11 लाख आवास ग्रामीण और छह लाख आवास शहरी क्षेत्रों में बन गए हैं। उन्होंने केंद्र की उज्जवला, जनधन समेत तमाम योजनाएं गिनाते हुए कहा कि इसके बाद भी कोई बोले की कुछ नहीं हुआ तो हमने अपनी बात सही ढंग से नहीं रखी।

सीएम योगी ने कहा कि प्रदेश में 1.60 लाख बूथ है। यदि हर बूथ पर 5 महिलाओं को खड़ा करें तो प्रदेश में 8 लाख महिलाओं की सेना तैयार हो जाएगी। महिला मोर्चा लोगों को सरकार की योजनाओं के प्रति जागरूक करे। उस तबके को योजना के लाभ का एहसास कराए। जिन्हें योजना का लाभ मिलना है। अगर यह सभी कार्यक्रम एक साथ चलें तो बहुत बड़ा काम हो सकता है। भारत की घरों की अर्थव्यवस्था का आधार गृहिणी होती है।

उन्होंने कहा कि यदि स्वंय महिलाएं जागरूक हो जाएं तो महिला अपराध कम हो जाएंगे। बहुत कुछ किए जाने की जरूरत है। महिला मोर्चा को 1090 और 181 हेल्पलाइन की जानकारी देनी चाहिए कि किन परिस्थितियों में क्या डायल करना है। इससे बड़ी संख्या में महिला संबंधी अपराधों में अंकुश लगाने में सफलता प्राप्त होगी। कांस्टेबल भर्ती में 20 फीसदी आरक्षण महिलाओं के लिए अनिवार्य किया है। जनवरी में 50 हजार पुलिस भर्ती लेकर आ रहे हैं। मोर्चा महिलाओं को भर्ती के लिए जागरूक करे।

महिला मोर्चा के कार्यक्रम में योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जब मोदी पीएम बने थे। तब देश को बांटने की साजिशें हो रही थी। काम जो शुरू हुआ वह लाभान्वित होने वाले परिवारों तक पहुंचाने की जिम्मेदारी भाजपा और उसके संगठन की है। जिस गरीब को 500 या हजार रूपये का अनुदान मिलता था तो वह उसे मिल नहीं पाता था क्योंकि उसका बैंक खाता नहीं था। बिचौलिए बीच का पैसा ले लेते थे। शासन की योजनाओं में सेंध लगाने का काम करते थे। शासन की योजनाओं का लाभ समाज के हर तबके को मिल सके। इसलिए पीएम जनधन योजना लेकर आए।

पीएम ने नहीं दिखाई बेचारगी

उन्होंने बेचारगी नहीं दिखाई कि हम 100 रूपये भेज रहे हैं। नीचे 10 रूपये भेज रहा है। डीबीटी के माध्यम से यह काम किया। 36 करोड़ लोगों के खाते खुलें और उस खाते में 86 हजार करोड़ रूपये जमा हुए। इस देश की महिलाओं की बचत की प्रवृत्ति की वजह से ऐसा संभव हो सका।

आठ करोड़ परिवारों को धुएं से मुक्ति

सीएम ने कहा कि केंद्र सरकार ने देश में महिलाओं के कल्याण के लिए बेटी बचाओ बेटी पढाओं अभियान चलाया। यूपी के छह ऐसे जनपद थे। जहां बालिकाओं का अनुपात कम था। आज उसमें सुधार हुआ है। हरियाणा में सबसे कम था। आज वहां सुधार हुआ है। 2014 के लिए महिलाओं को रसोई गैस कनेक्शन के लिए परेशान होना पड़ता था। यह सब मोदीजी की वजह से सुलभ हो पाया है। आठ करोड़ परिवारों को धुएं से मुक्ति मिली है। इसकी वजह से तमाम बीमारियों से मुक्ति मिली है।

2014 में सिर्फ 23 फीसदी परिवारों के पास थे शौचालय

योगी ने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन में अकेले 2014 में 23 फीसदी परिवारों के पास यूपी में अपने शौचालय थे। मार्च 2017 तक तत्कालीन सरकारों ने कोई रूचि नहीं लिया। मार्च 2017 के बाद आज यूपी का ऐवरेज 99 फीसदी और नेशनल ऐवरेज 94 फीसदी है। शौचालय स्वच्छता का नहीं बल्कि नारी सम्मान का भी प्रतीक है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story