Top

कमल के शपथ ग्रहण से दूर रहेंगी ममता, माया और अखिलेश

कांग्रेस के कद्दावर नेता कमलनाथ सोमवार को मध्य प्रदेश के सीएम पद की शपथ ग्रहण करेंगे लेकिन इस समारोह में पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी शामिल नहीं होंगी। ममता भोपाल क्यों नहीं आ रहीं ये अभी स्पष्ट नहीं हुआ है। तृणमूल कांग्रेस सांसद दिनेश त्रिवेदी ने कहा, मुझे पार्टी प्रमुख ने सोमवार को शपथ ग्रहण कार्यक्रम में उपस्थित रहने का निर्देश दिया है।

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 17 Dec 2018 3:33 AM GMT

कमल के शपथ ग्रहण से दूर रहेंगी ममता, माया और अखिलेश
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

भोपाल : कांग्रेस के कद्दावर नेता कमलनाथ सोमवार को मध्य प्रदेश के सीएम पद की शपथ ग्रहण करेंगे लेकिन इस समारोह में पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी शामिल नहीं होंगी। ममता भोपाल क्यों नहीं आ रहीं ये अभी स्पष्ट नहीं हुआ है। तृणमूल कांग्रेस सांसद दिनेश त्रिवेदी ने कहा, मुझे पार्टी प्रमुख ने सोमवार को शपथ ग्रहण कार्यक्रम में उपस्थित रहने का निर्देश दिया है। मेरा वहां जाना ही अपने आप में एक संदेश है।

इसके साथ ही बसपा सुप्रीमो मायावती और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव भी समारोह में शामिल नहीं होंगे।

यह भी पढ़ें…..जानिए कौन हैं छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल?

कौन-कौन रहेगा शामिल

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा, शरद यादव, नेशनल कॉन्फ्रेंस के फारूख अब्दुल्ला, टीडीपी के चंद्रबाबू नायडू, तृणमूल कांग्रेस की तरफ से दिनेश त्रिवेदी, सीपीआई, सीपीएम, डीएमके के स्टालिन, आम आदमी पार्टी, सहित विपक्ष के कई नेता शामिल होंगे। लेकिन विपक्ष का संयुक्त मोर्चा बनाने का सपना देखने वाले दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और तेलंगाना के सीएम चंद्रशेखर राव इसमें शामिल नहीं होंगे।

भोपाल के जंबूरी मैदान में होने वाला शपथ ग्रहण समारोह सबसे भव्य होगा।

यह भी पढ़ें…..संजय सिंह का विवादित बयान, योगी की तुलना मुगल शासक नादिर शाह से की

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story