Top

मैं स्वस्थ हूं, निहित स्वार्थ के लिए फैलाई जा रही अफवाहें : पर्रिकर

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 20 Aug 2017 9:15 AM GMT

मैं स्वस्थ हूं, निहित स्वार्थ के लिए फैलाई जा रही अफवाहें : पर्रिकर
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

पणजी : गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा है कि 23 अगस्त को उप-चुनावों से पहले कुछ लोग अपने निहित स्वार्थ के लिए उनके स्वास्थ्य के बारे में अफवाहें फैला रहे हैं। पर्रिकर ने यह भी कहा कि हाल ही में वह केवल एंजियोप्लास्टी प्रक्रिया से गुजरे थे, जिसे बढ़ा-चढ़ा कर पेश किया जा रहा है।

ये भी देखें:टूटा निवेशकों के सब्र का बांध: निकाला मार्च, किया चक्का जाम, हुई पुलिस से झड़प

पर्रिकर ने शनिवार को कहा, "मैंने 8-10 साल पहले एंजियोप्लास्टी करवाई थी। इसलिए मैं एक नियमित जांच के लिए गया था। चिकित्सक ने मुझे एंजियोग्राफी कराने की सलाह दी। जांच के दौरान चिकित्सकों को थोड़ी रुकावट नजर आई। मैंने उनसे इसका उपचार करने को कहा। मैं अस्पताल से तीन से चार घंटों में वापस आ गया। किसी को भी छोटी-मोटी स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं। लेकिन कुल मिलाकर मेरा स्वास्थ्य बिलकुल ठीक है।"

ये भी देखें:मोदी को चाहिए जबतक नमो राग पर नाच रही जनता, करा लें चुनाव वर्ना….?

पूर्व रक्षा मंत्री ने यह भी कहा कि हाल के दिनों में उन्होंने अपना वजन थोड़ा घटाया है। पर्रिकर ने कहा कि उन्होंने सही बॉडी मास इंडेक्स अनुपात हासिल करने के लिए यह किया है।

पर्रिकर ने छात्रों से एक विशेष बातचीत में कहा, "जब मैं दिल्ली गया था तो मेरा वजन लगभग 82 किलो का था, जो लगभग आठ किलो अधिक था। अब मेरा वजन 75 किलो है, जो मेरी लम्बाई के हिसाब से आदर्श है। किसी को चिंता करने की जरूरत नहीं है। मैं अपने स्वास्थ्य का ख्याल रखता हूं।"

ये भी देखें:योगी बोले- NIA ने आतंकवाद की कमर तोड़ने के लिए प्रभावी कार्रवाई शुरू की

उन्होंने कहा, "हम सभी को मोटे बच्चे अच्छे लगते हैं लेकिन वे जरूरी नहीं कि वे स्वस्थ हों। जो बच्चे टमाटर की तरह गोल होते हैं, वे अच्छे दिखते हैं, लेकिन उन्हें चिकित्सीय लिहाज से स्वस्थ्य नहीं माना जाता।"

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story