Top

BSP से निकाले गए धूराम का आरोप- साजिशन माया की जा रहीं भ्रमित

By

Published on 8 Aug 2016 7:03 PM GMT

BSP से निकाले गए धूराम का आरोप- साजिशन माया की जा रहीं भ्रमित
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

महोबाः बीएसपी के कद्दावर नेताओं में गिने जाने वाले धूराम चौधरी ने सोमवार को पार्टी के को-ऑर्डिनेटरों पर संगीन आरोप लगाया। धूराम ने कहा कि ये को-ऑर्डिनेटर साजिशन बीएसपी सुप्रीमो मायावती को भ्रमित कर रहे हैं। उन्होंने साथ ही ये भी कहा कि अब विधायक नहीं बनता, वह ठेकेदार बनाया जाता है। बता दें कि धूराम चौधरी को मायावती ने पार्टी से निकाल दिया है।

क्या बोले धूराम चौधरी?

-चरखारी में धूराम चौधरी की जगह अन्य को बीएसपी ने टिकट दिया है।

-धूराम ने कहा कि वह कांशीराम के जमाने से बीएसपी में हैं और समर्पित रहे हैं।

-उन्होंने ये भी कहा कि माया के करीबी को-ऑर्डिनेटर तथ्यहीन रिपोर्ट देकर लोगों को बाहर करवा रहे हैं।

-धूराम चौधरी ने शक जताया कि ये को-ऑर्डिनेटर दूसरी पार्टियों से मिलकर काम कर रहे हैं।

गेस्ट हाउस कांड दिलाया याद

-धूराम ने बताया कि 2 जून 1995 को जब लखनऊ में गेस्ट हाउस कांड हुआ था, तब वह वहीं थे।

-उन्होंने कहा कि बीएसपी के 20-22 विधायकों को सपाइयों ने जूते से मारा था। इनमें मौजूदा प्रदेश अध्यक्ष रामअचल राजभर भी थे।

-धूराम चौधरी ने कहा कि जो आज मायावती के नजदीकी हो गए हैं, उनका पहले अता-पता नहीं था।

-जिसे चरखारी में उम्मीदवार बनाया, वह कई दल बदल चुका है। मैं बीएसपी छोड़कर कहीं नहीं गया।

-उन्होंने कहा कि खुद को बीएसपी से निकाले जाने की वजह का पता ही नहीं है। अगला कदम कार्यकर्ताओं से पूछकर उठाएंगे।

Next Story