Top

मंत्री जी बोले- भाजपाइयों को जाना है स्वर्ग, मैं जमीनी आदमी  

sudhanshu

sudhanshuBy sudhanshu

Published on 4 July 2018 4:26 PM GMT

मंत्री जी बोले- भाजपाइयों को जाना है स्वर्ग, मैं जमीनी आदमी  
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष और योगी सरकार में मंत्री ओम प्रकाश राजभर एक बार फिर अपने बयान को लेकर सुर्खियों में हैं। इस बार उन्‍होंने कहा है कि पार्टी कार्यकर्ता सरकारी योजनाओं की पात्रता सूची में छूटे लोगों का नाम दर्ज कराने में जुटे हैं। लेकिन भाजपाइयों से उम्मीद न करें कि वह इस सिलसिले में लोगों को समझाएंगे। भाजपा तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि गांव में जाकर उनका नेता यह समझाएगा कि गंगा माई को साफ कराना है। उनको स्वर्ग में जाना है। हमको स्वर्ग नहीं जाना है, धरती पर रहना है।

ये भी पढ़ें: साउथ कोरिया प्रेसीडेंट खुद आ रहे नोएडा, पीएम मोदी संग करेंगे ये काम

27 फीसदी आरक्षण में बंटवारा नहीं तो सड़कों पर आएंगे

राजधानी स्थित स्थित कैपिटल सिनेमा में प्रदेश कार्यसमिति और कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए राजभर ने कहा कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और सीएम योगी आदित्यनाथ के सामने बात हुई थी। छह महीना पहले उन्होंने कहा ​था कि 27 फीसदी आरक्षण में बंटवारा होना चाहिए। ऐसा नहीं हुआ तो चुनाव के छह महीना पहले हमको आपको सड़कों पर आना होगा, तब बंटवारा होगा।

ये भी पढ़ें:भाईसाब लगी शर्त ! इस खबर को पढ़ने के बाद आपके ‘होश हिरन’ हो जाएंगे

यूपी में शराबंदी हो लागू

राजभर ने कहा कि पिछड़ी जाति के बच्चों को प्ल​म्बरिंग, इलेक्ट्रीशियन आदि की ट्रेनिंग देने के लिए एक योजना बनी है। पर उसके लिए सिर्फ 75 लाख मिले हैं। इसका आनलाइन फार्म भरा जाएगा। यह फंड कम से कम बढकर दस करोड़ रुपये होना चाहिए। पीएम नरेन्द्र मोदी ने वादा किया था कि देश में गुजरात माडल देश में लागू होगा। यूपी में भी गुजरात की तरह शराबबंदी लागू होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि जिस थाने पर दारोगा नहीं सुने। 20 गांव के लोगों को इकटठा करो और उस थाने का घेराव करो। हरिजन एक्ट, दहेज एक्ट का मुकदमा मजिस्ट्रेटियल जांच के बाद दर्ज होनी चाहिए। हर जाति में गरीब हैं। आर्थिक आरक्षण मिलनी चाहिए।

sudhanshu

sudhanshu

Next Story