×

शिवपाल यादव समाजवादी पार्टी के विभीषण, मोहन भागवत के चंगुल में बीजेपी: ओमप्रकाश राजभर

sudhanshu

sudhanshuBy sudhanshu

Published on 20 Oct 2018 11:04 AM GMT

शिवपाल यादव समाजवादी पार्टी के विभीषण, मोहन भागवत के चंगुल में बीजेपी: ओमप्रकाश राजभर
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

शाहजहांपुर: उत्तर प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने शनिवार को निगोही विधानसभा क्षेत्र में एक सभा की। उसके बाद मीडिया से बात करते हुए कहा आरएसएस प्रमुख पीएम से लेकर सीएम और शिवपाल यादव को समाजवादी पार्टी का विभीषण तक बता दिया। उन्होंने कहा बीजेपी मोहन भागवत के चंगुल में है। आज नेता आम जनता को हिंदू मुस्लिम और मंदिर मस्जिद ज्यादा बता रहे हैं। लेकिन शिक्षा की कोई बात नहीं करता है। उनका कहना है कि पिछङों का हक चाहिए है। अगर सरकार नहीं देती है तो हम छीन भी सकते हैं। हमे मंत्री पद का कोई लालच नहीं है।

यादव वर्ग शिवपाल यादव के साथ नहीं

कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि मोहन भागवत देश को हिंदू राष्ट्र बनाना चाहते हैं। वो भी सिर्फ हिंदूओं के सहयोग से। ऐसे में मेरा कहना है कि बीजेपी मोहन भागवत के चंगुल मे है। मोहन भागवत चाहे तो कुछ भी हो सकता है। लेकिन ये देश संविधान से चलता हे। पीएम पद की शपथ लेते वक्त राष्ट्रपति ने शपथ सविंधान की ही ली है। तो वह इसके खिलाफ कैसे जा सकते हैं।

वहीं पीएम मोदी द्वारा 21 अक्टूबर को लाल किले से झंडा फहराने जाने पर बोले कि 'सईयां भये कोतवाल तो डर काहे का, सरकार उनकी है। जो चाहेंगे कर लेंगे।

वही उनका कहना है कि जब बीजेपी की सरकार उत्तरप्रदेश में बनी थी। तब शिवपाल यादव की सुरक्षा और बंगला वापस ले लिया था। लेकिन अचनाक सेकयूलर मोर्चा बनते उनको सुरक्षा और मायावती का बंगला कार्यालय बनाने के लिए दे दिया। शिवपाल यादव समाजवादी पार्टी के विभीषण है। सोचा कि अलग पार्टी बनाएंगे तो यादव हमारे साथ होगा। लेकिन ऐसा नहीं है।

वहीं मीटू का समर्थन करते हुए कहा कि ये गांव गांव मे आना चाहिए ताकि ऐसे लोगो पर मुकदमा दर्ज कर उन्हें सजा मिलनी चाहिए।

अमर सिंह पर बोलते हुए कहा कि अमर सिंह सरकार बनाने और बिगाड़ने मे माहिर है। वह अपनी गाड़ी लेकर काफिला निकाल रहे हैं, देखते हैं कहां तक जाते है।

sudhanshu

sudhanshu

Next Story